--Advertisement--

मूक-बधिर स्कूल के शिक्षकों के पैनल तैयार करने में गड़बड़ी

शिक्षा निदेशक बीकानेर ने पोद्दार मूक बधिर स्कूल जयपुर में विशेष शिक्षकों का पैनल बनाने के लिए विशेष शिक्षकों की...

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2018, 04:35 AM IST
शिक्षा निदेशक बीकानेर ने पोद्दार मूक बधिर स्कूल जयपुर में विशेष शिक्षकों का पैनल बनाने के लिए विशेष शिक्षकों की योग्यताएं जारी की है। इसमें कई विसंगतियां सामने आई है। यह स्कूल मूक बधिर विद्यार्थियों के लिए है, इसलिए इस स्कूल में सभी विशेष शिक्षक पद स्थापित नहीं हो सकते। केवल वे ही शिक्षक आ सकते हैं जो विशेष शिक्षक(एचआई)केटेगरी के है। राजस्थान प्राथमिक एवं माध्यमिक शिक्षक संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विपिन प्रकाश शर्मा ने शिक्षामंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि एचआई या बी.एड. स्पेशलाइजेशन इन स्पेशल एजुकेशन एचआई या बी.एड.सामान्य के साथ दो साल का डिप्लोमा स्पेशल एजुकेशन होती है। इसी प्रकार दृष्टिहीन विद्यार्थियों के लिए विशेष शिक्षक की योग्यता बी.एड. स्पेशल एजुकेशन वीआई और मंदबुद्धि विद्यार्थियों के लिए विशेष शिक्षक की योग्यता बीएड स्पेशल एजुकेशन एमआई होती है। विशेष शिक्षकों को जारी प्रमाण पत्र में तीनों केटेगरी एचआई, वीआई और एमआर का उल्लेख होता है। इसलिए किसी केटेगरी विशेष का शिक्षक दूसरी केटेगरी के विद्यार्थियों को नहीं पढ़ा सकता। इसलिए मूक बधिर स्कूल के पैनल में केवल एचआई योग्यताधारी विशेष शिक्षकों को ही शामिल किया जाए। वीआई और एमआर योग्यताधारी शिक्षकों की यहां जरूरत नहीं है। लेकिन योग्यता के मापदंडों में इनको भी शामिल कर लिया, जो गलत है। विभाग को योग्यता मे संशोधन करना चाहिए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..