--Advertisement--

ब्लड, यूरीन जांच करने वाली लैब के बाहर लगानी होगी रेट लिस्ट

सुरेन्द्र स्वामी, जयपुर| खून, यूरीन, ब्लड शुगर, लीवर फंक्शन, लिपिड प्रोफाइल, कैल्शियम, इलेक्ट्रोलाइट, ब्लड क्लोटिंग...

Dainik Bhaskar

Aug 12, 2018, 04:40 AM IST
सुरेन्द्र स्वामी, जयपुर| खून, यूरीन, ब्लड शुगर, लीवर फंक्शन, लिपिड प्रोफाइल, कैल्शियम, इलेक्ट्रोलाइट, ब्लड क्लोटिंग जांच करने वाली सरकारी व निजी पैथोलोजी लैब को क्लीनिकल एस्टेब्लीशमेंट एक्ट के तहत रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य हो गया है। पहले प्रोविजनल तथा बाद में स्थायी पंजीकरण संबंधित जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) कार्यालय में करवाना पड़ेगा।

एक्ट के अनुसार लैब के बाहर उपलब्ध जांच की न केवल रेट लिस्ट बल्कि स्टाफ की योग्यता भी लिखनी होगी। सरकार ने स्वास्थ्य मंत्रालय के निर्देश पर नियमों की पालना के लिए अतिरिक्त मुख्य सचिव, मिशन निदेशक (नेशनल हैल्थ मिशन), समस्त जिला कलेक्टर, जोन के संयुक्त निदेशक, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ), प्रमुख चिकित्सा अधिकारी (पीएमओ) को जिम्मेदारी दी है।


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..