Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» 7-8 घंटे ही सोएं, अन्यथा बढ़ सकता है हार्ट डिजीज का खतरा

7-8 घंटे ही सोएं, अन्यथा बढ़ सकता है हार्ट डिजीज का खतरा

हैल्थ रिपोर्टर जयपुर नींद पूरी नहीं लेने से बीमारियां होती हैं, लेकिन हाल ही में एक रिसर्च में यह...

Bhaskar News Network | Last Modified - Aug 11, 2018, 04:50 AM IST

7-8 घंटे ही सोएं, अन्यथा बढ़ सकता है हार्ट डिजीज का खतरा
हैल्थ रिपोर्टर जयपुर



नींद पूरी नहीं लेने से बीमारियां होती हैं, लेकिन हाल ही में एक रिसर्च में यह साबित हुआ है कि देर तक सोना भी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। रिसर्चर का कहना है कि रोजाना रात में सात-आठ घंटे से ज्यादा या कम सोना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है। बहुत ज्यादा और बहुत कम नींद खराब स्वास्थ्य का कारण बन सकती है। 3 मिलियन से ज्यादा लोगों पर हुई रिसर्च के विश्लेषण में पाया गया है कि हर रात 7-8 घंटे से अधिक सोने पर हार्ट डिजीज होने की संभावना बढ़ जाती है। यूनाइटेड किंगडम में कील यूनिवर्सिटी की ओर से इस मुद्दे पर रिसर्च की गई। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के जर्नल में प्रकाशित रिसर्च के मुताबिक, नींद और मृत्यु की अवधि के बीच "जे-शेप का संबंध पाया गया है। इसका सीधा संबंध कार्डियोवैस्कुलर डिजीज से है। कम नींद की तुलना में 7-8 घंटे से ज्यादा सोना मॉडरेट डिग्री पर हैल्थ को नुकसान पहुंचाता है। 9 घंटे तक सोने से हैल्थ को 14% से ज्यादा खतरा है। 10 घंटे की नींद में 30% से ज्यादा जोखिम है।

नतीजे यह भी दिखाते हैं कि खराब गुणवत्ता वाली नींद कोरोनरी हृदय रोग को 44% बढ़ा देती है। जरूरत से ज्यादा सोना हार्ट डिजीज के अनुपात को बढ़ा देती है। कुछ सामान्य बीमारियों की वजह से कुछ ओवरलैप होती हैं। उदाहरण के लिए एथरेस्क्लेरोसिस, एक सूजन की स्थिति है जिसमें पट्टिका धमनी दीवारों में बनती है और रक्त प्रवाह को प्रतिबंधित करती है। इससे दिल का दौरा और स्ट्रोक हो सकता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×