--Advertisement--

हथेली और तलवे से ज्यादा पसीना निकलने पर फिटकरी से धोएं

हैल्थ रिपोर्टर जयपुर एग्जाम में थोड़ी सी घबराहट महसूस हुई। हथेली से इतना ज्यादा पसीना निकलना शुरू...

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 04:50 AM IST
हथेली और तलवे से ज्यादा पसीना निकलने पर फिटकरी से धोएं
हैल्थ रिपोर्टर


एग्जाम में थोड़ी सी घबराहट महसूस हुई। हथेली से इतना ज्यादा पसीना निकलना शुरू हो गया कि कॉपी पूरी तरह से गीली हो गई। ऐसा एग्जाम ही नहीं, बल्कि किसी भी परिस्थिति में हो रहा है। इसके कारण व्यक्ति रूटीन के काम नहीं कर पाता है। ना ही पसीने से फिंगर प्रिंट आ पाते हैं। इसे सामान्य स्थिति मानते हुए नजरअंदाज नहीं करें। ऐसा हाइपरहाइड्रोसिस बीमारी में होता है। स्किन में एक्सेसिव हाइड्रेशन (पानी की मात्रा ज्यादा होना) की वजह से होता है।

चेहरे और गर्दन ज्यादा होती है हाइड्रेट

स्किन की सबसे ऊपर की लेयर में पानी कितना है? यह हाइड्रेशन कहलाता है। छोटे बच्चों की स्किन सॉफ्ट होने के कारण सबसे ज्यादा हाइड्रेट रहती है। उम्र बढ़ने के साथ-साथ हाइड्रेशन का लेवल कम होना शुरू हो जाता है। महिलाओं और पुरुषों में एक जैसा हाइड्रेशन रहता है। चेहरे और गर्दन पर बाकी हिस्सों की तुलना में हाइड्रेशन ज्यादा रहता है। बाहर का तापमान बढ़ने से स्किन डिहाइड्रेट होना शुरू हो जाती है। फिर पसीना ज्यादा हो रहा है। स्किन में हाइड्रेशन का लेवल सही है। साबुन और अन्य कैमिकल का ज्यादा इस्तेमाल बॉडी का ऊपर लेयर हटा देते हैं। इससे स्किन का वाटर लेवल कम हो जाता है। किसी तरह का डैमेज या इंजरी होने पर हाइड्रेशन कम होता है। जो लोग 11-20 सिगरेट रोजाना पीते हैं, उनमें हाइड्रेशन कम होता है। बारिश के मौसम में स्किन हाइड्रेशन ज्यादा होता है। बारिश में सर्दी की तुलना में ज्यादा हाइड्रेशन कम होता है।

कैसे मेजर करें : कॉर्नियोमीटर और मॉइश्चरोमीटर से स्किन में हाइड्रेशन का स्तर मालूम किया जा सकता है। बुजुर्गों में ड्राई स्किन सामान्य परेशानी है। 65-70 साल की उम्र में स्किन ड्राई हो जाती है। खुजली चलती है। सालों तक यह परेशानी रहने पर एटॉपिक डर्मेटाइटिस, सोरायसिस जैसी बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। इन्हें मॉइश्चराइजिंग एजेंट से ठीक किया जा सकता है।

-डॉ. पुनीत भार्गव, डर्मेटोलॉजिस्ट, एसएमएस, जयपुर

ट्रीटमेंट

इस बीमारी को लोकल कंट्रोल किया जा सकता है। इसलिए फिटकरी से हाथ धोएं। इससे तलवे और हथेलियों में पसीना कम आएगा। इसके अलावा एलयुमीनियम हाइड्रोक्साइड सॉल्यूशन का इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही बोटोक्स के इंजेक्शन से कंट्रोल किया जा सकता है। सर्जरी भी स्वेटिंग कंट्रोल करने का एक तरीका है।

हैल्थ रिपोर्टर


एग्जाम में थोड़ी सी घबराहट महसूस हुई। हथेली से इतना ज्यादा पसीना निकलना शुरू हो गया कि कॉपी पूरी तरह से गीली हो गई। ऐसा एग्जाम ही नहीं, बल्कि किसी भी परिस्थिति में हो रहा है। इसके कारण व्यक्ति रूटीन के काम नहीं कर पाता है। ना ही पसीने से फिंगर प्रिंट आ पाते हैं। इसे सामान्य स्थिति मानते हुए नजरअंदाज नहीं करें। ऐसा हाइपरहाइड्रोसिस बीमारी में होता है। स्किन में एक्सेसिव हाइड्रेशन (पानी की मात्रा ज्यादा होना) की वजह से होता है।

चेहरे और गर्दन ज्यादा होती है हाइड्रेट

स्किन की सबसे ऊपर की लेयर में पानी कितना है? यह हाइड्रेशन कहलाता है। छोटे बच्चों की स्किन सॉफ्ट होने के कारण सबसे ज्यादा हाइड्रेट रहती है। उम्र बढ़ने के साथ-साथ हाइड्रेशन का लेवल कम होना शुरू हो जाता है। महिलाओं और पुरुषों में एक जैसा हाइड्रेशन रहता है। चेहरे और गर्दन पर बाकी हिस्सों की तुलना में हाइड्रेशन ज्यादा रहता है। बाहर का तापमान बढ़ने से स्किन डिहाइड्रेट होना शुरू हो जाती है। फिर पसीना ज्यादा हो रहा है। स्किन में हाइड्रेशन का लेवल सही है। साबुन और अन्य कैमिकल का ज्यादा इस्तेमाल बॉडी का ऊपर लेयर हटा देते हैं। इससे स्किन का वाटर लेवल कम हो जाता है। किसी तरह का डैमेज या इंजरी होने पर हाइड्रेशन कम होता है। जो लोग 11-20 सिगरेट रोजाना पीते हैं, उनमें हाइड्रेशन कम होता है। बारिश के मौसम में स्किन हाइड्रेशन ज्यादा होता है। बारिश में सर्दी की तुलना में ज्यादा हाइड्रेशन कम होता है।

कैसे मेजर करें : कॉर्नियोमीटर और मॉइश्चरोमीटर से स्किन में हाइड्रेशन का स्तर मालूम किया जा सकता है। बुजुर्गों में ड्राई स्किन सामान्य परेशानी है। 65-70 साल की उम्र में स्किन ड्राई हो जाती है। खुजली चलती है। सालों तक यह परेशानी रहने पर एटॉपिक डर्मेटाइटिस, सोरायसिस जैसी बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। इन्हें मॉइश्चराइजिंग एजेंट से ठीक किया जा सकता है।

-डॉ. पुनीत भार्गव, डर्मेटोलॉजिस्ट, एसएमएस, जयपुर

क्या खाएं

हाइड्रेशन होने पर सर्दियों और मानसून में स्किन ड्राई हो जाती है। इसलिए हरी पत्तेदार सब्जियां, गाजर और टमाटर खाएं। इससे स्किन का हाइड्रेशन मेनटेन रहेगा। हेल्दी स्किन के लिए यह बैरियर की तरह काम करता है।

X
हथेली और तलवे से ज्यादा पसीना निकलने पर फिटकरी से धोएं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..