Home | Rajasthan | Jaipur | News | इंटीमेट थिएटर में शाही अंदाज में सुनीं बिज्जी की कहानियां

इंटीमेट थिएटर में शाही अंदाज में सुनीं बिज्जी की कहानियां

City Reporter

Bhaskar News Network| Last Modified - Aug 11, 2018, 04:51 AM IST

इंटीमेट थिएटर में शाही अंदाज में सुनीं बिज्जी की कहानियां
इंटीमेट थिएटर में शाही अंदाज में सुनीं बिज्जी की कहानियां
City Reporter जयपुर

कलानेरी अार्ट गैलरी की अाेर से इस बार इंटीमेट थिएटर सीरीज के तहत राजस्थान के प्रसिद्ध लेखक एवं साहित्य अकादमी पुरस्कार विजेता विजयदान देथा बिज्जी की कहानियांे का वाचन करवाया गया। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा सेे स्नातक अभिनेता अजीत सिंह पालावत अाैर अन्नपूर्णा साेनी ने देथा की ‘केंचुली’ व ‘मूंजी सूरमा’ कहानियों का वाचन किया। कुछ लाेगाें ने गद्दाें पर मसनदाें के सहारे बैठकर ताे कुछ ने मुड्ढे अाैर कुर्सियाें में बैठकर कहानियाें का अानंद लिया।

भाेजा लाछी की सुंदरता पर मुग्ध

कहानी ‘केंचुली’ में भोजा लाछी की सुदंरता पर मंत्रमुग्ध हो जाता है। लाछी अपने पति गुज्जर को भोजा की ओछी हरकतें दिखाने का प्रयास करती है लेकिन वह उनको नजरअंदाज करता है। कुछ समय बाद लाछी अपने खेत में एक सांप (केंचुली) को निकालने की कोशिश करते हुए देखती है। यह घटना देखकर उसे अहसास होता है कि सामाजिक बंधन रूपी ‘केंचुली’ से मुक्त होकर ही व्यक्ति को सच्चे अर्थों में आजादी मिलती है।

दूसरी कहानी ‘मूंजी सूरमा‘ एक सेठ की कहानी है जो कि काफी कंजूस होता है। इसमें देवी लक्ष्मी कंजूस सेठ की विभिन्न प्रकार से परीक्षा लेती है और लेकिन सेठ अपनी मूंजी स्वभाव को नहीं छोड़ता। आखिरकार, देवी लक्ष्मी सेठ से बेहद प्रसन्न होती है और उसे वरदान मांगने को कहती है। इस कहानी का प्लाॅट हास्य पर हाेने की वजह से लाेगाें काे हंसाने में कामयाब रहा।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now