Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» हिंडौन-बयाना मार्ग पर नहीं हुआ रोडवेज बसों का संचालन, मुसाफिर करते रहे इंतजार

हिंडौन-बयाना मार्ग पर नहीं हुआ रोडवेज बसों का संचालन, मुसाफिर करते रहे इंतजार

कासं | हिंडौन सिटी (ग्रामीण)/कंजोली/सूरौठ आरक्षण आंदोलन को लेकर गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के मुखिया कर्नल...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 16, 2018, 06:55 AM IST

हिंडौन-बयाना मार्ग पर नहीं हुआ रोडवेज बसों का संचालन, मुसाफिर करते रहे इंतजार
कासं | हिंडौन सिटी (ग्रामीण)/कंजोली/सूरौठ

आरक्षण आंदोलन को लेकर गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के मुखिया कर्नल किरोड़ी सिंह बैसला के नेतृत्व में बयाना के अड्डा गांव में आयोजित हुई महापंचायत को लेकर मंगलवार को शहर एवं देहात के लोग दिनभर आशंकित रहे। चाय की दुकानों, होटलों एवं अन्य स्थानों पर लोग महापंचायत की चर्चाओं में ही मशगूल रहे। इसके अलावा लोग मोबाइल के माध्यमों से अपने परिचितों से कर्नल बैसला की ओर से आंदोलन किए जाने के निर्णय की जानकारी पूछते रहे। स्टेशन पर मौजूद यात्रियों में भी भय दिखाई दिया। यात्रियों का कहना रहा कि यदि गुर्जरों द्वारा रेलवे ट्रैक रोक दिया गया तो वे अपने घर तक कैसे पहुंचेंगे। महापंचायत को देखते हुए हिंडौन से बयाना मार्ग पर रोडवेज बसों का संचालन नहीं किया गया और गंगापुर से बयाना के मध्य सुरक्षा के कड़े इंतजाम रहे।

ओबीसी का वर्गीकरण कर 50 फीसदी के अंदर 5 फीसदी आरक्षण दिए जाने की गुर्जर मांग कर रहे हैं। 2 मई को कर्नल बैंसला ने हिंडौन स्थित अपने आवास पर गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारियों की बैठक लेकर 15 मई को अड्डा में महापंचायत करने का ऐलान किया था और उसी महापंचायत में आंदोलन की रूपरेखा तय करने की जानकारी दी थी। इसके अलावा एक दिन पूर्व सोमवार को भी कर्नल बैसला के निवास पर आयोजित हुई बैठक में 15 सदस्यीय कमेटी गठित कर सरकार से वार्ता के लिए जयपुर भेजा गया, लेकिन वार्ता में कोई सहमति नहीं। मंगलवार को अड्डा में हुई महापंचायत में गुर्जर बाहुल्य गांवों से लोग बाइक, ट्रैक्टर-ट्रॉली, जीप आदि साधनों से पहुंचे।

बसों का संचालन नहीं होने से लोग हुए परेशान

महापंचायत में आंदोलन का रुख स्पष्ट होने को लेकर दिनभर लोग आंदोलन की चर्चा करते हुए नजर आए। रेल स्टेशन सहित अन्य स्थानों पर भी अन्य दिनों की अपेक्षा भीड़ कम दिखाई दी। हिंडौन से बयाना मार्ग पर रोडवेज बसों का संचालन नहीं होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। हिंडौन के मुख्य प्रबंधक बहादुरसिंह ने बताया कि बयाना-भरतपुर मार्ग पर रोडवेज की करीब 14 बसों का संचालन होता है। बयाना से हिंडौन के बीच दोपहर एक बजे से बसों का संचालन बंद किया गया। बसों का संचालन नहीं होने से यात्रियों को ज्यादा किराया देकर डग्गेमार वाहनों में सफर तय करना पड़ा।

पुलिस-प्रशासन के अधिकारी रहे चौकस

महापंचायत को देखते हुए पुलिस-प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था भी बढ़ा दी। रेलवे ट्रैक की सुरक्षा के लिए रेलवे द्वारा आरपीएफ और जीआरपी के जवान लगाए गए हैं। इसके अलावा शहर में दिनभर पुलिस की गाड़ियां गश्त करती नजर आई। गुर्जर महापंचायत के लिए लगाए गए अधिकारी दिनभर अपने क्षेत्रों में निगरानी रखते हुए पल-पल की खबर से कलेक्टर एवं उच्चाधिकारियों को अवगत कराया।

स्टेशनों पर तैनात किए हथियारबंद जवान

पटोंदा. गुर्जर महापंचायत को लेकर मंगलवार को गंगापुर से भरतपुर के रेलवे स्टेशनों पर हथियारबंद पुलिस के जवान सुरक्षा की दृष्टि से तैनात किए गए हैं। हिंडौन, श्रीमहावीरजी, बयाना आदि के मध्य स्टेशनों पर रेलवे अधिकारियों ने निगरानी बनाए रखी। रेलवे के आला अधिकारी क्षेत्र में डेरा डाले हुए हैं।

गुर्जर महापंचायत को देखते हुए आरपीएफ के 100 एवं जीआरपी 50 जवान तैनात किए गए हैं। आरपीएफ के चौकी प्रभारी गोवर्धन सिंह ने बताया कि कोटा से प्रताप सिंह, जीआरपी के डीएसपी रोहिताश शर्मा, गंगापुर के राजाराम आदि हिंडौन में रहकर स्थिति पर निगरानी बनाए हुए हैं।

हिंडौन सिटी. गुर्जरों की महापंचायत को देखते हुए मंगलवार को बयाना-हिंडौन मार्ग पर राेडवेज बसों का संचालन नहीं हुआ। बस स्टैंड पर बैठे यात्री।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×