धोखाधड़ी / 1093 किसानों के कागजातों से सात करोड़ 22 लाख का उठा लिया लोन



Loan on Farmers' Land in Rajasthan
X
Loan on Farmers' Land in Rajasthan

  • धौलपुर की नगला दूल्हे खां पंचायत का मामला
  • सचिव और सहायक सचिव द्वारा फर्जी तरीके से किसानांे के नाम पर लोन उठाया गया

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 03:57 AM IST

धौलपुर. केंद्र व राज्य सरकार किसानों को कर्ज माफी से लेकर हर प्रकार से राहत देने का कार्य कर रही है। वहीं नगला दूल्हे खां पंचायत की सोसायटी सचिव और सहायक सचिव ने मिलकर 1093 किसानों के कागजातों से 7 करोड़ 22 लाख रुपए का लोन उठा लिया है, जबकि किसानों ने कोई भी लोन लिया ही नहीं। किसानों को जब इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने सचिव व सहायक सचिव के खिलाफ किसानों के कागजात से करोड़ों रुपए के लोन उठाकर धोखाधड़ी के 
मामले को लेकर एंटी करप्शन ब्यूरो में शिकायत दर्ज करवाई है। 

 

एंटी करप्शन ब्यूरो के एएसपी अशोक चौहान ने किसानों की शिकायत पर परिवाद दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। ग्राम पंचायत नगला दूल्हे खा के पीड़ित किसान श्याम सुंदर ने बताया कि सोसायटी सचिव रामबाबू पुत्र गुलकंदी और सहायक सचिव नंद किशोर पुत्र रामबाबू ने मिलकर ग्राम पंचायत के करीब 1093 किसानों के कागजातों से 7 करोड़ 22 लाख रुपए का लोन उठाया है। पीड़ित किसान श्याम सुंदर ने बताया कि जानकारी होने के बाद जब वे सचिव और सहायक सचिव के पास रुपए मांगने जाते हैं तो दोनों उन्हें 5 या 10 हजार रुपए लेने की बात कहता है।

 

पीड़ित ने बताया कि उन्होंने कोई भी लोन नहीं करवाया है। इसके बाद भी सोसायटी के सचिव और सहायक ने मिलकर उनके कागजातों से करोड़ों रुपए के लोन करवाकर उनके साथ धोखाधड़ी कर दी है। कोऑपरेटिव सोसाइटी दिहौली पंचायत समिति राजाखेड़ा के मैनेजर एवं सचिव राकेश शर्मा के खिलाफ भी एसीबी ने परिवाद दर्ज किया है। पीड़ित रामसहाय निवासी दिहौली ने बताया कि फरासपुरा, बहारीपुरा, करका खेरली, अत्तापुरा सहित आदि गांवों के दर्जनों ग्रामीणों के साथ

धोखा किया गया है। जिनके नाम पर फर्जी तरीके से फसली ऋण उठाकर राशि को उपयोग में लिया गया। :

 

किसानों की शिकायत पर सोसायटी सचिव और सहायक सचिव तथा कोऑपरेटिव सोसाइटी दिहौली पंचायत समिति राजाखेड़ा के मैनेजर एवं सचिव के खिलाफ परिवाद दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।- अशोक चौहान, एएसपी, एंटी करप्शन ब्यूरो

 

10 साल पहले मर चुके किसानों के नाम पर भी उठाए गया लोन
पीड़ित श्याम सुंदर ने बताया कि नगला दूल्हे खा में करीब 30 ऐसे किसानों के कागजातों के भी सचिव और सहायक सचिव ने लोन उठाए है, जिन किसानों की करीब 10 साल पूर्व ही मौत हो चुकी है। पीड़ित ने बताया कि मृतक किसानों में बाबू पुत्र छद्दू, छोटे पुत्र बलदेव, सुरेश पुत्र लेखराम आदि शामिल हैं। पीड़ित किसानों ने बताया कि उन्होंने कोई भी लोन नहीं करवाया है, जबकि सचिव और सहायक सचिव ने उनका लोन उठाकर उन्हें कर्जे में दिखा दिया है।

COMMENT