Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Many Announcements During CM Raje's Rajasthan Gaurav Yatra

12377 किसानों का पूरा कर्ज माफ, 60 हजार बीघा जमीन मुक्त; सीएम राजे की गौरव यात्रा के दौरान की कई घोषणाएं

सीएम ने कहा- राहुल बाइक से मप्र को निकले तो निम्बाहेड़ा को ही एमपी समझ कर सभा करने लग गए; किसी ने बताया, ये राजस्थान है

Bhaskar News | Last Modified - Aug 10, 2018, 05:00 AM IST

12377 किसानों का पूरा कर्ज माफ, 60 हजार बीघा जमीन मुक्त; सीएम राजे की गौरव यात्रा के दौरान की कई घोषणाएं

छोटी सादड़ी/प्रतापगढ़.मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने टीएसपी एरिया (जनजाति उपयोजना क्षेत्र) के 12377 किसानों का संपूर्ण कर्ज माफ कर दिया है। इससे उनकी 15 हजार हैक्टेयर (करीब 60 हजार बीघा) जमीन रहन से मुक्त होकर उन्हें वापस मिल जाएगी। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गुरुवार को अपनी गौरव यात्रा के दौरान प्रतापगढ़ जिले के छोटी सादड़ी में यह घोषणा की।

मुख्यमंत्री की इस घोषणा के बाद टीएसपी क्षेत्र के सभी वर्ग के लघु एवं सीमांत किसानों के सहकारी बैंकों की ओर से 31 जुलाई 2018 तक बकाया वाले किसानों को फायदा होगा। कृषि ऋण में सम्पूर्ण मूल धन, ब्याज एवं पैनल्टी माफ की जाएगी। इस फैसले से राज्य सरकार पर 94.15 करोड़ रु. का वित्तीय भार आएगा। इससे पहले सरकार ने सहकारी बैंक से 50 हजार रु. तक कृषि लोन लेने वाले छोटे किसानों के कर्ज माफ किए थे। छोटी सादड़ी में सभा को संबोधित करते हुए सीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि राजस्थान कांग्रेस में कोई काबिल चेहरा नहीं है। इस कारण राहुल गांधी ने खुद को ही यहां चुनावी चेहरा घोषित कर दिया है। यह इस बात का संकेत भी है कि कांग्रेस प्रदेश में भाजपा से घबरा गई है। उन्होंने राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें चुनाव के वक्त मंदिर याद आते हैं।

बीपीएल परिवारों को हर माह 50 यूनिट बिजली फ्री

- सीएम ने सहकारी भूमि विकास बैंकों से दीर्घ कालीन कृषि ऋण लेकर समय पर किश्त चुकाने वाले किसानों को टीएसपी एरिया में 5% ब्याज अनुदान को बढ़ाकर 7% करने की घोषणा की।

- इस घोषणा से 2018-19 में इस क्षेत्र के किसानों के लिए दीर्घ कालीन कृषि ऋण की प्रभावी ब्याज दर सिर्फ साढ़े 5 प्रतिशत रह जाएगी।
- सीएम ने टीएसपी एरिया के बीपीएल परिवारों को हर माह 50 यूनिट घरेलू बिजली फ्री देने की भी घोषणा की।
- एक हैक्टेयर से कम जमीन वाले किसानों को आॅन डिमांड कृषि
कनेक्शन मिलेगा।

सीएम ने पूछा- क्या कांग्रेस में कोई काबिल नहीं जो राहुल को चुनावी चेहरा बनाया :मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि अशोक गहलोत, सचिन पायलट और सीपी जोशी के नामों को नकारते हुए राहुल गांधी ने खुद को ही कांग्रेस का चुनावी चेहरा घोषित कर दिया है। इससे साफ है कि राजस्थान कांग्रेस में कोई काबिल चेहरा ही नहीं है। उन्होंने कहा स्पष्ट है कांग्रेस भाजपा से घबरा गई है और हार के डर से राहुल को राजस्थान चुनाव का चेहरा बनाया लेकिन कांग्रेस यहां जीतने वाली नहीं है। सीएम ने कहा ये वो राहुल है जो बाइक पर मध्यप्रदेश को निकले तो निम्बाहेड़ा को ही एमपी समझकर सभा करने लग गए। किसी ने बताया, ये मध्यप्रदेश नहीं, राजस्थान है। अब बताओ क्या ऐसा नेता राज्य में चुनाव लड़ेगा, जिसको पता नहीं कि निम्बाहेड़ा एमपी में है या राजस्थान में।

राहुल पर तंज...चलो भाजपा ने मंदिर जाना तो सिखा ही दिया:मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी 11 अगस्त को जयपुर आ रहे हैं। वे गोविंद देवजी और मोती डूंगरी गणेश जी के दर्शन करेंगे। ये अच्छी बात है लेकिन चुनाव के वक्त राहुल को गोविंद देवजी और मोती डूंगरी गणेश जी क्यों याद आ रहे हैं। वे पहले भी तो कई बार जयपुर आ चुके हैं। उनकी तो राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप में ताजपोशी भी जयपुर में ही हुई थी। तब तो वे किसी मंदिर में नहीं गये। अचानक उन्हें भगवान कैसे याद आ गये? जबकि कांग्रेस के नेता तो मुझ पर सवाल उठाते आए हैं कि मैं मंदिर बहुत जाती हूं। चलो अच्छा है भाजपा ने राहुल को मंदिर जाना तो सिखा दिया।

पायलट का 7वां सवाल... कर्मचारी विरोधी होना क्या गौरव की बात है:प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से सातवां प्रश्न पूछा है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों से वादाखिलाफी, कर्मचारियों से संवाद न करना, उनकी समस्याओं को लम्बित रखना, कर्मचारी विरोधी होना क्या आपके लिए गौरव की बात है? केंद्र द्वारा लागू वेतनमानों के समान ही प्रदेश में वेतनमान लागू किये जाते हैं, लेकिन राज्य की अपनी कोई नीति नहीं है। केंद्र ने कर्मचारियों को एक जनवरी, 2016 से सातवें वेतनमान का लाभ दिया, लेकिन प्रदेश सरकार जनवरी 2017 से लागू कर 7 लाख कर्मचारियों के हितों पर कुठाराघात किया है। निगमों एवं स्वायत्तशासी संस्थाओं द्वारा अपने कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग के लाभ से वंचित कर रखा है। 2008 में कर्मचारियों के ग्रेड पे में विसंगति रखी, जिसे जुलाई 2013 में कांग्रेस सरकार ने दुरूस्त करते हुए कर्मचारियों के बड़े वर्ग को राहत प्रदान की। पायलट ने कहा कि जनता सब जानती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×