मौलवी ने नाबालिग से दुष्कर्म किया, मामला दर्ज हुआ तो गांव में छोड़ गया

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक
  • नाबालिग का अपहरण कर हैदराबाद ले गया जहां एक मस्जिद के मुसाफिरखाने में उसके साथ दुष्कर्म किया
  • पीड़िता के परिजनों ने मामला भी दर्ज कराया, लेकिन पुलिस सात दिन तक घटना को छिपाये रही

कठूमर (अलवर). थाना क्षेत्र के एक गांव से मदरसे का मौलवी नाबालिग बालिका का अपहरण कर हैदराबाद ले गया। वहां एक मस्जिद के मुसाफिरखाने में उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता के परिजनों ने मामला भी दर्ज कराया, लेकिन पुलिस सात दिन तक घटना को छिपाये रही। रविवार को मौलवी बालिका को क्षेत्र के गांव खुड़ियाना में छोड़कर भाग गया। सूचना पर पुलिस पहुंची और उसे बरामद कर लिया। तब जाकर घटना उजागर हुई।
 
हालांकि पुलिस का कहना है कि लगातार दबिश के चलते आरोपी बालिका को छोड़कर गया है। थाना अधिकारी राजेश कुमार ने बताया बालिका के पिता ने 7 सितंबर को मामला दर्ज कराया था कि उसकी 17 वर्षीय चचेरी बहन को युसुफ पुत्र दीनू निवासी खैराबा थाना जुरहरा-भरतपुर बोलेरो में जबरन बिठा ले गया। मामला दर्ज कर युसुफ के घर और कई ठिकानों पर दबिश दी, लेकिन वह नहीं मिला। दबाब के चलते आरोपी युसुफ पीड़िता को खुडियाना के पास छोड़ कर भाग गया। पीड़िता ने बताया कि मौलवी उसे शादी का झांसा देकर हैदराबाद ले गया। वहां एक मस्जिद के मुसाफिर खाने में जाकर ठहरा और कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। 
 
आरोपी युसुफ पीड़िता के गांव के मदरसे में मौलवी था। इस दौरान कई बार उसका खराब बर्ताव और हरकतें जाहिर होने पर ग्रामीणों ने उसे मदरसे से भगा दिया था।

खबरें और भी हैं...