जयपुर / वांटेड बदमाश को पकड़ने के लिए पुलिस व बदमाशों के बीच चली अंधाधुंध गोलियां, दो कांस्टेबल घायल



Miscreants firing on police in bagru jaipur wanted badmash arrest in case of murder ajmer
Miscreants firing on police in bagru jaipur wanted badmash arrest in case of murder ajmer
Miscreants firing on police in bagru jaipur wanted badmash arrest in case of murder ajmer
X
Miscreants firing on police in bagru jaipur wanted badmash arrest in case of murder ajmer
Miscreants firing on police in bagru jaipur wanted badmash arrest in case of murder ajmer
Miscreants firing on police in bagru jaipur wanted badmash arrest in case of murder ajmer

  • बगरू थाना इलाके में आसलपुर फाटक के पास दिनदहाड़े चलाई गोलियां
  • अजमेर के बहुचर्चित मनीष मूलचंदानी हत्याकांड में भी वांछित था जीतू बन्ना

Dainik Bhaskar

Aug 22, 2019, 11:32 AM IST

विजेंद्र सिंह/ (बगरू)जयपुर. शहर के बगरू इलाके में बुधवार को एक शातिर बदमाश को पकड़ने गई पुलिस व बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। दोनों तरफ से गोलियां चली। लेकिन बदमाशों की फायरिंग में दो पुलिसकर्मियों के पैर व जांघ में गोली लग गई। इससे वे दोनों घायल हो गए। ग्रीन कोरिडोर बनाकर उन्हें शहर के एसएमएस अस्पताल पहुंचाया गया। जहां उनका उपचार जारी है।

 

वहीं, पुलिस टीम ने वारदात के बाद भागने के प्रयास कर रहे मुख्य आरोपी जीत सिंह और उसके साथी को धरदबोचा। जबकि मौके से भागे बदमाशों की तलाश में पुलिस टीम लगी हुई है। घटना का पता चलने पर डीसीपी विकास शर्मा और अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। इस बीच पुलिस ने बदमाशों की एक कार को भी जब्त कर लिया है, जो कि उनके भागते वक्त कच्चे रास्ते में उतरने से फंसकर बंद हो गई थी।

 

जानकारी के अनुसार गिरफ्तार मुख्य आरोपी जितेंद्र सिंह उर्फ जीतू बन्ना अजमेर के बहुचर्चित मनी एक्सचेंजर मनीष मूलचंदानी हत्याकांड केस में भी मुख्य आरोपी था। गत 13 अगस्त को बगरू क्षेत्र में हाइवे के समीप देवलिया में लकी रिसोर्ट पर जीतू व उसकी गैंग ने पांच फायरिंग की। इनमें तीन गोलियां होटल के शीशे पर लगी, जबकि दो हवाई फायर थे।

 

इसके बाद होटल संचालक हनुमान सहाय शर्मा ने बगरू थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। जिसमें बताया कि 17 अगस्त को जीतू बन्ना ने उसे फोन कर 1 करोड़ रूपए की फिरौती मांगी। नहीं देने पर उसे जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद 19 अगस्त की रात को फिर से जीतू और उसकी गैंग ने हनुमान सहाय के हरध्यानपुरा स्थित एक और होटल पर फायरिंग की।

 

वहां खड़ी दो फॉरच्यूनर व दो वर्ना कार में पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। तब डीसीपी विकास शर्मा, एडिशनल डीसीपी बजरंग सिंह मौके पर पहुंचे थे। इसके बाद थानाप्रभारी बृजभूषण अग्रवाल के नेतृत्व में टीम गठित की। बुधवार को सूचना मिली कि फरार जीतू बन्ना एक कार में बगरू इलाके में फिर से होटल संचालक से रूपए की वसूली करने आया है। इस पर पुलिस टीम ने पीछा किया।

 

तब आसलपुर रेलवे फाटक पर गेट बंद मिला। ऐसे में बदमाश कार से भाग नहीं सके। जब पीछा करते हुए पुलिस नजर आई तब कार सवार बदमाशों ने फायरिंग की। इसमें पुलिस कांस्टेबल ताराचंद व छोटेलाल कुमावत के पैर व जांघ में गोली लगी। वे घायल हो गए। इसके बाद भी पुलिस टीम ने हौंसला नहीं हारा। तब बदमाशों की कार सड़क किनारे कच्चे में उतरकर अटक गई। तब पुलिस ने जीतू बन्ना और उसके दो साथियों को धरदबोचा। उनसे पूछताछ की जा रही है।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना