पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Monsoon Active In East Rajasthan, Rain Lashes Jaipur

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोटा-झालावाड़ में सेना राहत-बचाव कार्य में जुटी, करौली-धौलपुर में भी चंबल उफान पर

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जयपुर में हुई तेज बारिश से चांदी की टकसाल में गिरी पेड़ की टहनी।
  • जयपुर में रविवार की सुबह हुई सुहावनी, बारिश की टप-टप से खुली नींद
  • अगले 24 घंटों में बारां, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, कोटा में रेड अलर्ट

जयपुर। पूर्वी राजस्थान में मानसून सक्रिय है। मानसून अपने अंतिम चरण में है, लेकिन जमकर बरस रहा है। कोटा, झालावाड़ में हालात खबरा हैं। कोटा बैराज के 19 गेट खोले गए तथा 6 लाख 78 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया। इससे निचली बस्तियों में पानी भर गया तथा बाढ़ के हालात बन गए। हनुमानगड़ी, कर्बला, लाडपुरा, खंड गांवडी हरिजन बस्ती में दस से 20 फीट तक पानी भर गया। यहां बाढ़ जैसे हालात हैं। आस-पास के दस गांव पानी में डूब गए हैं। एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, निगम, सिविल डिफेंस व सेना राहत व बचाव में जुटी है। मध्यप्रदेश में चंबल के कैचमेंट उएरिया में लगातार बारिश होने से चंबल में पानी की आवक जारी है। कोटा से सटे झालावाड़ जिले में रविवार को बरसात रुक जाने व पानी उतरने से थोड़ी राहत मिली। हालांकि जिले के रायपुर, चौमेला व गंगधार में हालात खराब हैँ। रायपुर में सेना को मदद के लिए बुलाया गया।  धौलपुर व करौली में चंबल उफान पर है। करौली के करणपुर क्षेत्र के कई गांव पानी से घिरे हैं। धौलपुर में चंबल खतरे के निशान से 9.21 मीटर ऊपर बह रही है। देर रात तक चंबल का जलस्तर 139 मीटर पर जा पहुंचा था जबकि खतरे का निशान 129.79 मीटर है।
 
आपदा प्रबंधन और कलेक्टर हालातों पर नजर रखे हुए हैं। बीसलपुर बांध के रविवार को 12 गेट खोल कर एक लाख 96 हजार क्यूसेक पानी की निकासी की जा रही है। पानी बनास नदी में छोड़ा जा रहा है। यहां त्रिवेणी का गेज 5,70 मीटर चल रहा है। इससे बीसलपुर में पानी की आवक जारी है। अधिग्रहण इलाकों में भी बारिश के चलते बांध में पानी की आवक जारी है।
 
हालांकि पिछले तीन दिन लगातार बारिश के बाद बांसवाड़ा में बीती रात से ही बारिश रुकी हुई है। वहीं प्रतापगढ़ में रविवार को रिमझिम बारिश का दौर चला। यहां बीते चार दिनों लगातार बारिश होने से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया था। हालांकि अभी भी जाखम बांध पर चादर चल रही है। वहीं प्रदेश में अब तक 40.3% ज्यादा बारिश हो चुकी है। जहां इस मौसम में 506.45 मिमी बारिश होनी थी वहीं अब तक 710.96 मिमी बारिश हो चुकी है। गांधीसागर, राणा प्रताप सागर, जवाहर सागर, कोटा बैराज, काली सिंध, बीसलपुर समेत प्रदेश के कई बांध लबालब हैं। वहीं प्रदेश के 385 बांधों पर चली चादर चली है। कालीसिंध और चंबल समेत कई नदियां उफान पर हैँ।
 
जयपुर : जयपुर में रविवार की सुबह बेहद सुहानी रही। लोगों की नींद बारिश की टप-टप से खुली। यहां कई इलाकों में सुबह सात बजे बारिश का दौर शुरू हुआ जो तीन घंटे तक चलता रहा। रविवार की छुट्टी होने के कारण सुबह बारिश से लोगों के चेहरे खिल उठे। साथ ही बढ़ते तापमान से पड़ रही गर्मी व उमस से जयपुर वासियों को राहत मिली। हालांकि तेज बारिश से कई इलाकों में पानी भर जाने से राहगीरों व वाहन चालकों को परेशानी हुई। यहां दिनभर रुक-रुक कर बरसात का दौर चलता रहा।
 

बारां, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, कोटा में रेड अलर्ट
 
मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में बांसवाड़ा, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौड़गढ़, धौलपुर, डूंगरपुर, झालावाड़, करौली, कोटा, प्रतापगढ़, राजसमंद, सवाईमाधोपुर, सिरोही, टोंक, उदयपुर में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। इसमें बारां, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, कोटा में रेड अलर्ट तो बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, बूंदी, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, राजसमंद, सिरोही व उदयपुर में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 
 

पिछले 24 घंटों में यहां बरसे मेघ
 
जयपुर में 29.2, कोटा मं 47.8, सवाईमाधोपुर में 10.0, चित्तौड़गढ़ में 20.0, डबोक में 1.6 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई। वहीं बीती रात 12 शहरों का तापमान 25 डिग्री से ऊपर रहा। बीती रात सबसे अधिक तापमान 29.0 डिग्री फलौदी में रहा। यहां पिछले कुछ रातों से तापमान सबसे अधिक बना हआ है। हालांकि दो रात पहले यहां तापमान 31.0 डिग्री था। दिन व रात के तापमान में दो से तीन डिग्री तक की गिरावट आई है।
 

इनपुट : विनोद शर्मा, फोटो : मनोज श्रेष्ठ  

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले रुके हुए और अटके हुए काम पूरा करने का उत्तम समय है। चतुराई और विवेक से काम लेना स्थितियों को आपके पक्ष में करेगा। साथ ही संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी चिंता का भी निवारण होगा...

और पढ़ें