जयपुर / ओला-उबर इफेक्ट; किराया रिवाइज होने पर मीटर से चलने को तैयार ऑटो



Ola-Uber effect; Auto ready to run on meter when the fare is revised
X
Ola-Uber effect; Auto ready to run on meter when the fare is revised

  • आरटीओ ऑफिस ने 6 साल पहले ऑटाे रिक्शा किराया तय किया था
  • दावा है कि किराया रिवाइज होने के 2 महीने के अंदर ही सभी मीटर ठीक करवा लिए जाएंगे

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 02:03 AM IST

जयपुर. ओला-उबर के बढ़ते वर्चस्व के बाद ऑटाे यूनियनों ने शहर में मीटर से चलने की तैयारी शुरू कर दी है। यूनियनों की शर्त है कि 6 साल पहले तय हुआ किराया रिवाइज करें। किराए में भी प्रथम 1 किमी में पांच रुपए की बढ़ोतरी करने की मांग है। बाकी किराया यथावत रहे ताे उन्हें काेई परेशानी नहीं हाेगी।

 

यूनियन वालाें ने अब आरटीओ में किराया रिवाइज करने के लिए पत्र दिया है। किराया रिवाइज हाेने के बाद मीटर से ऑटाे चलते हैं ताे लाेगाें काे फायदा हाेगा। आरटीओ ऑफिस में सुनवाई न हाेने पर संघर्ष समिति के संयोजक अमर सिंह चौहान के नेतृत्व में यूनियन वालों ने परिवहन शासन सचिव व आयुक्त से मिलकर किराया रिवाइज करने की गुहार लगाई है। सचिव ने यूनियनों काे किराया रिवाइज करने का आश्वासन दिया है। 

 

मांग ये कि...पहले किमी का किराया 5 रु. बढ़ाएं

  • ~15 प्रथम किमी और इसके बाद ~9 प्रति किमी तय किया था।
  • अब ऑटाे रिक्शा यूनियन प्रथम किमी में ~5 की बढ़ोतरी करके ~20 की मांग कर रहे हैं। बाद के 9 रु. में बदलाव नहीं चाहते।

 

  • काेई भी ऑटाे यूनियन मेरे पास इस तरह का प्रस्ताव लेकर नहीं आई है। यूनियन यह प्रस्ताव लेकर आती है ताे उनका स्वागत है। -राजेंद्र वर्मा, आरटीओ 
  • आरटीओ किराया रिवाइज कर देता है ताे ऑटाे रिक्शा मीटर से चलने की तैयार हैं। किराया रिवाइज हाेने के दाे महीने में मीटर ठीक करा लिए जाएंगे। इसके बाद मीटर से नहीं चले ताे ट्रैफिक पुलिस कार्रवाई का विराेध नहीं करेंगे। -चंद्रभान गुप्ता, अध्यक्ष, कुलदीप सिंह महामंत्री ऑटाे रिक्शा चालक संघर्ष समिति, जयपुर
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना