• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • News
  • Jaipur - विवाद पर जेडीए ने पीडब्ल्यूडी से रामनिवास बाग ही ले लिया
--Advertisement--

विवाद पर जेडीए ने पीडब्ल्यूडी से रामनिवास बाग ही ले लिया

जयपुर। मसाला चौक में दुकानों के आवंटन और किराएदारों से एग्रीमेंट को लेकर जेडीए और पीडब्ल्यूडी में रार खत्म हो गई...

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 04:07 AM IST
Jaipur - विवाद पर जेडीए ने पीडब्ल्यूडी से रामनिवास बाग ही ले लिया
जयपुर। मसाला चौक में दुकानों के आवंटन और किराएदारों से एग्रीमेंट को लेकर जेडीए और पीडब्ल्यूडी में रार खत्म हो गई है। सीएस स्तर पर हुई बैठक के बाद पीडब्ल्यूडी ने पूरे रामनिवास बाग को ही जेडीए को सौंप दिया है। इसके बाद बाग में बनाए मसाला चौक परिसर को लेकर जेडीए फैसले कर सकेगा। अभी तक जेडीए 7 महीने से यहां आवंटित 22 कियोस्क के किराए भी नहीं ले पा रहा था और यहां दुकानें मुफ्त में ही चली आ रही थी। दूसरी ओर 8 कियोस्क बनकर तैयार थे, लेकिन पहले से चले आ रहे विवादों के चलते आवंटन अटके हुए थे। आखिरकार दोनों विभाग जब मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट से जुड़े विवादों का हल नहीं निकाल पाए तो सीएस ने 26 जुलाई को बैठक लेकर पीडब्ल्यूडी को बाग के संचालन की जिम्मेदारी जेडीए को सौंपने की बात कही। आदेश अनुसार पीडब्ल्यूडी के बाग स्थित कार्यालय और नर्सरी को छोड़कर पूरे बाग का मालिकाना हक जेडीए को सौंप दिया गया है। जबकि जेडीए मसाला चौक की दुकानों के एग्रीमेंट के लिए पहले एनओसी मांगता आ रहा था। तर्क था कि वो ही मेंटिनेंस और काम करा रहा है तो फिर पीडब्ल्यूडी उनके काम के लिए एनओसी तक क्यों नहीं दे रहा। इसके बाद जेडीए ने पूरे बाग की ही मांग कर डाली।

ड्रीम प्रोजेक्ट की कॉपी कई शहरों में

राजधानी के रामनिवास बाग में शुरू किए गए खान-पान के लोकप्रिय मसाला चौक मॉडल की तर्ज पर 18 जिलों में मसाला चौक खोलने की प्लानिंग हुई है।। पहले चरण में 6 जिले चिह्नित किए गए हैं। इनमें उदयपुर, कोटा, अजमेर, बीकानेर, अलवर, जोधपुर का नाम शामिल है। जिनके जिला कलेक्टरों को मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जयपुर के मसाला चौक के बारे में बताकर इसकी कॉपी करने की बात कही हुई है।

सरकारी स्तर पर ऐसा प्रोजेक्ट लोकप्रिय

मसाला चौक की लोकप्रियता शहरवासी और यहां आने वाले टूरिस्ट में देखते ही बन रही है। वीकेंड पर तो 8-10 हजार तक लोग यहां आ रहे हैं। बैठने तक की जगह नहीं होती। इसकी वजह है एक ही जगह पर खान-पान की स्वादिष्ट चीजों का समावेश। साथ ही साफ-सफाई और मेंटिनेंस की व्यवस्था भी लोगों को भा रही है। केवल पार्किंग को लेकर परेशान है, जिसका जेडीए अभी तक हल नहीं निकाल पा रहा। साथ ही लोगों के लिए अब सिटिंग अरेंजमेंट भी और बढ़ाना है। काम संभाल रहे अतिरिक्त मुख्य अभियंता वीएस सूंडा ने कहा कि व्यवस्थाओं में लगातार इजाफा कर रहे हैं।

X
Jaipur - विवाद पर जेडीए ने पीडब्ल्यूडी से रामनिवास बाग ही ले लिया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..