नाकामी का एक और चेहरा / दुष्कर्म के आरोपी को गिरफ्तार कर चार्जशीट देना भूल गई पुलिस



Police forgot to give charge sheet by arresting accused of rape
X
Police forgot to give charge sheet by arresting accused of rape

  • तैयार चार्जशीट एक महीने थाने में ही पड़ी रही, जमानत पर छूटा आरोपी

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 12:40 AM IST

जयपुर (योगेश शर्मा). दलित से दुष्कर्म जैसे गंभीर अपराध की चार्जशीट तैयार हो गई लेकिन पुलिस कोर्ट में समय पर पेश करना ही भूल गई। डीसीपी के अप्रूवल के बाद चालान एक महीने थाने में ही पड़ा रहा। इस दौरान गिरफ्तारी के बाद चालान पेश करने की मियाद बीत गई।

 

इस आधार पर आरोपी ने जमानत की अर्जी लगाई। कोर्ट ने केस डायरी तलब की, तो पुलिस ने चालान पेश किया। तब तक देर हो चुकी थी। लापरवाही के चलते आरोपी जमानत पर छूट गया। चाकसू निवासी राजवीर सैनी को 25 जनवरी को तत्कालीन चाकसू एसीपी राजेन्द्र जैन ने गिरफ्तार किया था। उस पर दलित किशोरी से दुष्कर्म का आरोप था।

 

कोर्ट ने सैनी को जेल भेज दिया। मामले की जांच के दौरान ही जैन का स्थानांतरण हो गया। उनके स्थान पर आए नए एसीपी अर्जुनराम चौधरी ने आरोप पत्र तैयार कर भेज दिया। डीसीपी साउथ ने 29 मार्च को चार्जशीट की पुष्टि कर फाइल शिवदासपुरा थाने भिजवा दी। कानूनन पुलिस को आरोपी की गिरफ्तारी के 90 दिन में चालान पेश करना होता है।

 

इस मामले में 25 अप्रेल को यह अवधि पूरी हो गई। पोक्सो कोर्ट में चालान पेश नहीं हुआ। अगले ही दिन 26 अप्रेल को आरोपी ने इसी आधार पर जमानत की अर्जी लगा दी। जज ने पुलिस से केस डायरी मंगाई। इस पर एसएचओ इंद्रराज मारोडिया ने अगले दिन चार्जशीट पेश की। तब तक आरोपी को जेल में 92 दिन हो चुके थे। गंभीर धाराओं का मुकदमा होने पर भी आरोपी केवल इसी तकनीकी कारण 30 अप्रैल पर छूट गया।


 

ऐसी लापरवाही से आरोपी को जमानत पर रिहा होने का कानूनी अधिकार मिल जाता है। जेल से छूट आरोपी गवाहों और परिवादी को प्रभावित करता है। जिससे कई बार गंंभीर अपराधों में भी अभियुक्त को सजा नहीं हो पाती। - आर.एन.यादव, विशेष लोक अभियोजक

 

भूलवश यह गलती हुई है। इसके पीछे कोई दुर्भावना नहीं थी। आरोपी की गिरफ्तारी के बाद मेरी नियुक्ति हुई थी, इसलिए अवधि का ध्यान नहीं रहा। मैंने काफी पहले डीसीपी से चालान की स्वीकृति ले ली थी। - इंद्रराज मारोडिया, एचएचओ, शिवदासपुरा

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना