अलवर / वसूली नहीं देने पर जेल में भिड़े कैदी, मारपीट में एक बंदी को सिर फोड़कर किया घायल



घायल बंदी को उपचार करवाकर कर ले जाती पुलिस घायल बंदी को उपचार करवाकर कर ले जाती पुलिस
X
घायल बंदी को उपचार करवाकर कर ले जाती पुलिसघायल बंदी को उपचार करवाकर कर ले जाती पुलिस

  • बहरोड़ उप कारागृह का मामला, उपचार के बाद घायल बंदी को मिली छुट्‌टी

Dainik Bhaskar

Jul 14, 2019, 06:24 PM IST

अलवर. जिले के बहरोड़ कस्बे में स्थित उप कारागृह में रविवार को आपसी कहासुनी के बाद दो कैदी आपस में भिड़े गए। इनमें एक कैदी का सिर फोड़कर घायल कर दिया। घटना से जेल में हंगामा मच गया। सूचना मिलने पर जेल प्रहरियों ने कैदियों को अलग किया। बहरोड़ थाना पुलिस को सूचना दी। इसके बाद सिर में चोट लगने से घायल हुए कैदी सतीश को पुलिस राजकीय अस्पताल ले गई। उसे उपचार के बाद छुट्‌टी दे दी गई।

 

जानकारी के अनुसार मारपीट में घायल हुए कैदी सतीश दहेज हत्या के केस में बहरोड़ उप कारागृह में बंद है। वह जैनपुरबास का रहने वाला है। उसके भाई नरसी ने आरोप लगाया कि उपकारागृह में बहरोड़ निवासी मोनू प्रधान व ततारपुर निवासी मंजीत भी बंद है। ये दोनों जेल में बंद उसके भाई सतीश को मोबाइल फोन का उपयोग करने व अन्य सुविधाओं के लिए रुपयों की वसूली के लिए दबाव बना रहे थे।

 

चौथवसूली के लिए मोनू व मंजीत कई दिनों से सतीश को परेशान कर रहे थे। इसके चलते रविवार को दोनों बंदियों का सतीश से झगड़ा हो गया। वे दोनों बंदी आपस में भिड़ गए। इनमें दोनों बंदियों ने सतीश से मारपीट कर उसका सिर फोड़ दिया। उसे घायल कर दिया। अब पुलिस रिपोर्ट लेकर मामले की पड़ताल कर रही है।

 

न्यूज व फोटो : जितेंद्र सिंह नरूका

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना