--Advertisement--

राजस्थान में बारिश की आफत: कहीं बाइकें पानी में डूबी तो कहीं रोकनी पड़ी ट्रेन

राजस्थान में पिछले दो दिनों से हो रही अच्छी बारिश के बाद कई शहरों की सड़कें जलमग्न हो गई।

Dainik Bhaskar

Jul 18, 2018, 04:10 PM IST
बीकानेर के कोलगेट रेलवे क्रॉसिंग के पास सड़क पर भरा पानी। बीकानेर के कोलगेट रेलवे क्रॉसिंग के पास सड़क पर भरा पानी।

जयपुर. राजस्थान में पिछले दो दिनों से हो रही अच्छी बारिश के बाद कई शहरों की सड़कें जलमग्न हो गई। पहले सीकर फिर बीकानेर दो शहर ऐसे रहे जिन्हे बारिश में सबसे ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ा। सीकर की सड़के काफी बारिश के पानी में डूब गई तों बीकानेर में ट्रैक पर आए पानी से पैसेंजर ट्रेन को आधे घंटे रोकना पड़ा।


- बीकानेर में लगातार दो दिन हुई बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। सोमवार को हुई बारिश का पानी सड़कों और गलियों से अच्छी तरह उतरा भी नहीं था कि मंगलवार को फिर जलभराव हो गया। जिसके बाद बुधवार को भी बारिश की चेतावनी जारी है। यहां कोटगेट रेलवे ट्रैक पर पानी भरने से पैसेंजर ट्रेन आधे घंटे तक रुकी रही। इससे रेल फाटकों के आसपास लंबा जाम लग गया। लोग घंटों जाम से जूझते रहे। नगर निगम से लेकर सूरसागर तक वापस पानी भरने से चार घंटे तक बस खड़ी करके रास्ता रोकना पड़ा। इससे आमजन को काफी असुविधा हुई। सूरसागर मार्ग से पानी की निकासी करने के लिए यूआईटी और निगम की जेसीबी मशीन और कर्मचारी लगाए गए। नाले पर लगी जालियां उठाकर पानी निकाला गया।

सीकर में सड़कों पर 4 फीट तक पानी आया

- सीकर शहर में 24 घंटे के अंदर 23 एमएम बारिश हुई। निचले इलाकों के रास्तों में तीन से चार फीट तक पानी आ गया। इस वजह से मंगलवार देर शाम तक वाहनों का आवागमन बाधित रहा। सबसे ज्यादा चार फीट तक पानी का भराव बजाज रोड जैन स्कूल के पास हुआ। बस डिपो तिराहा, सिल्वर जुबली रोड, स्टेशन रोड, लुहारु बस स्टैंड, सूरजपोल गेट सहित कई इलाकों में दो से तीन फीट तक पानी आ गया। नवलगढ़ रोड़ पुलिया के पास पानी का ज्यादा भराव होने की वजह से दोपहर में मार्केट बंद हो गए। देर रात तक भी कई वाहन पानी में फंसे रहे।
- मौसम विभाग के अनुसार बुधवार को भी शेखावाटी सहित प्रदेशभर में कई स्थानों पर अच्छी बारिश होने की संभावना है। जयपुर मौसम विभाग के विशेषज्ञों के अनुसार शेखावाटी में दिनभर बादलों की आवाजाही रहेगी। कई स्थानों पर बौछारें भी गिर सकती है।

मोरी बांध में 8 फीट पानी, नीमकाथाना में अब तक 326 एमएम बािरश

- बीती रात लादिया गांव में मकान गिरने से महिला की मौत हो गई। पानी के दबाव से सैदाला भगवानपुरा एनीकट टूट गया। बारिश के कारण कई बांधों व एनीकटों तक पानी की आवक हुई है। लगातार बरसात से सड़कों पर पानी भर गया। कई जगह रोड़ क्षतिग्रस्त हुए हैं। बारिश के कारण लोगों को परेशानी भी हुई।
- 10 साल बाद रायपुर बांध में 6 फीट पानी | इलाके में 60 एमएम बारिश के बाद रायपुर बांध तक पहुंचने वाली तीनों नदियां उफान पर रही। 10 साल सूखे के बाद बांध के गेज पर 6 फीट पानी रिकॉर्ड हुआ। अब तक नीमकाथाना में 326 एमएम बारिश हुई है। लादी का बास, जीर की घाटी, जीलो से होकर आने वाली नदियों में दोपहर तक पानी चलता रहा। सागर की मोरी बांध में 8 फीट पानी आया। रायपुर जागीर व चीपलाटा बांध में तीन-तीन फीट पानी आया।

इन 12 जिलों में औसत से ज्यादा बारिश

बीकानेर, चूरू, डूंगरपुर, अलवर, बांसवाड़ा, चित्तौडगढ, गंगानगर, जैसलमेर, झालावाड़, नागौर, प्रतापगढ़, सीकर, उदयपुर में औस से ज्यादा बारिश रिकॉर्ड की गई है। वहीं 16 जिले ऐसे हैं जिनमें औसत बारिश हुई। इनमें अजमेर, भरतपुर, दौसा, भीलवाड़ा, धौलपुर, हनुमानगढ़, जयपुर, झूंझुनू, जोधपुर, राजसमंद, कोटा, नागौर, पाली, करौली, बारां, सवाईमाधोपुर हैं।

सीकर में बजाज रोड़ जलमग्न हो गई। सीकर में बजाज रोड़ जलमग्न हो गई।
रायपुर पाटन बांध में 10 साल बाद 6 फीट पानी आया। रायपुर पाटन बांध में 10 साल बाद 6 फीट पानी आया।
बीकानेर में पानी के साथ ट्रैक पर कचरा आने से पेसेंजर ट्रेन रोकनी पड़। बीकानेर में पानी के साथ ट्रैक पर कचरा आने से पेसेंजर ट्रेन रोकनी पड़।
सड़कों पर पानी भरने के कारण गाड़ियां बंद पड़ गईं। सड़कों पर पानी भरने के कारण गाड़ियां बंद पड़ गईं।
गाड़ियों के अंदर भी घुसा पानी। गाड़ियों के अंदर भी घुसा पानी।
ऑफिस में घूसा बारिश का पानी। ऑफिस में घूसा बारिश का पानी।
बीकानेर नगर निगम दफ्तर के सामने भरा पानी। बीकानेर नगर निगम दफ्तर के सामने भरा पानी।
सीकर में जगह-जगह भरा पानी। सीकर में जगह-जगह भरा पानी।
Rain in diffrent parts of rajasthan from last two days
X
बीकानेर के कोलगेट रेलवे क्रॉसिंग के पास सड़क पर भरा पानी।बीकानेर के कोलगेट रेलवे क्रॉसिंग के पास सड़क पर भरा पानी।
सीकर में बजाज रोड़ जलमग्न हो गई।सीकर में बजाज रोड़ जलमग्न हो गई।
रायपुर पाटन बांध में 10 साल बाद 6 फीट पानी आया।रायपुर पाटन बांध में 10 साल बाद 6 फीट पानी आया।
बीकानेर में पानी के साथ ट्रैक पर कचरा आने से पेसेंजर ट्रेन रोकनी पड़।बीकानेर में पानी के साथ ट्रैक पर कचरा आने से पेसेंजर ट्रेन रोकनी पड़।
सड़कों पर पानी भरने के कारण गाड़ियां बंद पड़ गईं।सड़कों पर पानी भरने के कारण गाड़ियां बंद पड़ गईं।
गाड़ियों के अंदर भी घुसा पानी।गाड़ियों के अंदर भी घुसा पानी।
ऑफिस में घूसा बारिश का पानी।ऑफिस में घूसा बारिश का पानी।
बीकानेर नगर निगम दफ्तर के सामने भरा पानी।बीकानेर नगर निगम दफ्तर के सामने भरा पानी।
सीकर में जगह-जगह भरा पानी।सीकर में जगह-जगह भरा पानी।
Rain in diffrent parts of rajasthan from last two days
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..