राजस्थान / श्रम मंत्री के आश्वासन के बाद चिकित्सा कर्मियों के बहाल होने तक कार्य बहिष्कार स्थगित

डाक्टरों की बैठक को संबोधित करते श्रम मंत्री टीकाराम जूली। डाक्टरों की बैठक को संबोधित करते श्रम मंत्री टीकाराम जूली।
X
डाक्टरों की बैठक को संबोधित करते श्रम मंत्री टीकाराम जूली।डाक्टरों की बैठक को संबोधित करते श्रम मंत्री टीकाराम जूली।

  • मंत्री बोले दोषी के खिलाफ करेंगे कार्रवाई व निर्दोष को बहाल करेंगे

दैनिक भास्कर

Jan 11, 2020, 05:52 PM IST

अलवर. श्रम मंत्री टीकाराम जूली के आश्वासन के बाद चिकित्सा कर्मियों ने शनिवार को सात दिन के लिए कार्य बहिष्कार को स्थगित कर दिया। श्रम मंत्री टीकाराम जूली शनिवार को चिकित्साकर्मियों की ओर से आईएमए हॉल में आयोजित बैठक में संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा हादसे की दो तरह की जांच चल रही है। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसे सजा दी जाएगी और निर्दोष को बाहर किया जाएगा। उन्होंने एक सप्ताह के भीतर जांच पूरी होने और निर्दोष चिकित्साकर्मियों के बहाल करने का आश्वासन दिया जिसके बाद सेवारत चिकित्सक संघ अध्यक्ष मोहनलाल सिंधी ने सर्वसम्मति से कार्य बहिष्कार को सात दिन के लिए स्थगित कर दिया।

उन्होंने कहा, सात दिन में अगर सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानीं तो आंदोलनात्मक कदम उठाए जाएंगे। इस दौरान पीएमओ सुनील चौहान सहित चिकित्सकों व नर्सिंग कर्मचारियों ने श्रम मंत्री के सामने अस्पताल की समस्याओं को भी रखा।

गौरतलब है कि 31 दिसंबर की सुबह शिशु चिकित्सालय के वार्ड एफबीएनसी में मशीन में आग लगने से एक बच्ची गंभीर रूप से झुलस गई थी। बच्ची की इलाज के दौरान जयपुर में मौत हो गई थी जिस पर कार्रवाई करते हुए सरकार ने दो डॉक्टर व तीन नर्सिंग कर्मचारियों को निलंबित कर दिया था। जिसके विरोध में चिकित्सा कर्मी एक जनवरी से 2 घंटे का लगातार कार्य बहिष्कार कर उनकी बहाली की मांग कर रहे थे।

न्यूज व फोटो : मनीष बावलिया, अलवर

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना