पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Jaipur News Rajasthan News Government Had Announced Recruitment For 8600 Posts But Recruitment Will Be Of 5 Thousand

सरकार ने की थी 8600 पदों पर भर्ती की घोषणा, पर भर्ती होगी 5 हजार की

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस विभाग में 5 हजार कांस्टेबलों की भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। हालांकि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पुलिस विभाग में कांस्टेबल के 8600 पदों पर भर्ती की घोषणा की थी। अब माना जा रहा है 5 हजार पदों पर भर्ती के बाद शेष रहे 3600 पदों पर भर्ती की जाएगी। इसके लिए वित्त विभाग से अलग से मंजूरी लेनी होगी। मुख्यमंत्री की ओर से भर्ती का एलान किए जाने के बाद पुलिस मुख्यालय ने सरकार को प्रस्ताव भेजकर इन पदों पर प्रशासनिक और वित्तीय स्वीकृति मांगी थी। इसके लिए फरवरी और जून में प्रस्ताव भेजा गया था। अब सरकार ने पुलिस मुख्यालय को अवगत कराया है कि 5 अगस्त को वित्त विभाग ने प्रशासनिक और वित्तीय स्वीकृति दे दी है। साथ ही सरकार ने मुख्यालय के प्रस्ताव को मंजूरी देते हुए कांस्टेबल के 5 हजार पदों पर भर्ती की सहमति प्रदान की है।

पिछली भर्ती के चयनित कांस्टेबलों की चल रही है ट्रेनिंग

पिछले साल कांस्टेबल के 13 हजार पदों पर भर्ती की गई थी। लिखित व शारीरिक परीक्षा के बाद करीब 11 हजार अभ्यर्थियों का कांस्टेबल पद के लिए चयन किया था। उन सभी अभ्यर्थियों की राजस्थान पुलिस, बीएसएफ, सीआरपीएफ व अन्य सेंटरों पर ट्रेनिंग चल रही है। ट्रेनिंग का यह सिलसिला अभी नवंबर तक चलेगा। इसके बाद उन सभी अभ्यर्थियों काे अलग-अलग जिलों में पोस्टिंग दी जाएगी।

एसआई भर्ती 706 पदों पर होगी भर्ती

कांस्टेबल भर्ती के साथ सरकार ने पुलिस विभाग में सब इंस्पेक्टर (एसआई) के 706 पदों पर भी भर्ती की घोषणा की थी। अभ्यर्थियों को इस भर्ती की प्रक्रिया शुरू होने का भी इंतजार है। विभाग इस भर्ती की प्रक्रिया शुरू करने के लिए भी सरकार से हरी झंडी मिलने का इंतजार कर रहा है।

कांस्टेबल के कुल पदों की जानकारी ही गलत भेज दी

पुलिस मुख्यालय की ओर से सरकार को भेजे गए पत्र में कांस्टेबल के कुल पदों की जानकारी ही गलत भेज दी गई। पहले भेजे गए प्रस्ताव में कांस्टेबल के स्वीकृत पद 74084 बताए गए। बाद में भेजे गए प्रस्ताव में 75685 बता दिए गए। इस प्रकार दोनों प्रस्तावों में कांस्टेबल के कुल पदों का 1601 पदों का अंतर आ गया। सरकार ने मुख्यालय को इस अंतर को सही करने का भी निर्देश जारी किया है।

सरकार की ओर से मंजूरी मिलने के बाद अब भर्ती प्रक्रिया शुरू करने की जिम्मेदारी मुख्यालय पर आ गई है। मुख्यालय जल्दी ही भर्ती प्रक्रिया शुरू कर सकता है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि सबकुछ ठीक रहा हो जल्द ही भर्ती शुरू कर दी जाएगी।

खबरें और भी हैं...