एचपीसीएल ने डेढ़ माह बाद भी नहीं दी रिपाेर्ट

Jaipur News - चाैमू स्थित राजावास से गुजर रही हिंदुस्तान पेट्राेलियम की पाइप लाइन काे लीकेज करके पिछले 2 साल से राेजाना 5 हजार...

Aug 19, 2019, 03:15 PM IST
चाैमू स्थित राजावास से गुजर रही हिंदुस्तान पेट्राेलियम की पाइप लाइन काे लीकेज करके पिछले 2 साल से राेजाना 5 हजार लीटर डीजल चाेरी करने के मामले में एचपीसीएल के अधिकारियाें ने डेढ़ माह बीतने के बाद भी पुलिस के इंटरनल जांच रिपाेर्ट नहीं दी है। पुलिस ने प्रारंभिक जांच में एचपीसीएल के अधिकारियाें की भूमिका काे संदिग्ध माना था।

इस संबंध में पुलिस अधिकारियाें ने 27 जून काे एचपीसीएल के अधिकारियाें के साथ मीटिंग की थी अाैर उनकाे कहा था कि डीजल चाेरी हाेने के मामले में इंटरनल जांच कराए जाए अाैर वह रिपाेर्ट पुलिस काे साैंपी जाए। ताकि दाेषी अफसर-कर्मचारियाें के खिलाफ कार्रवाई की जाए। लेकिन अभी तक पुलिस काे रिपाेर्ट नहीं मिली है। एेसे में पुलिस की जांच अटक गई है। गाैरतलब है 20 जून काे डीजल चाेरी का भंडाफोड़ करके चार ड्राइवराें अाैर एक मकान मालिक काे गिरफ्तार किया था। अाराेपियाें की गिरफ्तारी के बाद एक पेट्राेल पंप संचालक अाैर सरगना बलजीत के साथी जितेन्द्र व राहुल काे गिरफ्तार किया था। अाराेपियाें ने पूछताछ में 15 पेट्राेल पंप पर चाेरी के डीजल की सप्लाई करने की बात कबूल की है। अाराेपियाें बलजीत सिंह ने डीजल चाेरी करने के लिए 83-83 वर्ग के दाे प्लाट 25 लाख रुपए में लेकर गाेदाम बनाए थे।

कांस्टेबल की सूचना पर हुअा था खुलासा

चाैमू थाने में तैनात एक कांस्टेबल की सूचना पर चाैमू अाैर हरमाड़ा थाना पुलिस ने मंगलवार देर रात बाद कार्रवाई करकेे मामले का भंडाफाेड़ करके डीजल चाेरी में लिप्त हरमाड़ा निवासी धर्मेन्द्र सिंह, झुंझुनूं निवासी दिनेश मीणा, बालाजी विहार काॅलाेनी राजावास निवासी अाेमप्रकाश शर्मा अाैर चाैमू निवासी शिंभू सैनी काे गिरफ्तार किया था। इसके बाद पुलिस ने सरगना के साथी जितेन्द्र व राहुल अाैर सरगना अंकित व बलजीत काे गिरफ्तार किया था। इस मामले में पुलिस अब तक 11 अाराेपियाें काे गिरफ्तार कर चुकी है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना