शहर के 1500 कलाकार हाथ के पंखे पर चित्रकारी कर मनाएंगे रंग मल्हार

Jaipur News - सिटी रिपोर्टर

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:35 AM IST
Jaipur News - rajasthan news malhar will celebrate 1500 artist39s paintings on hand fan
सिटी रिपोर्टर
प्रदेश में सुखद वर्षा की कामना के लिए प्रदेश के चित्रकाराें द्वारा लगातार दसवें वर्ष भी ‘रंग मल्हार’ समाराेह मनाने की व्यापक तैयारियां की जा रही हैं। इस बार ये अायाेजन जयपुर सहित प्रदेश के 15 शहराें में 21 जुलाई काे अायाेजित किया जाएगा जिसमें करीब 1500 कलाकार शिरकत करेंगे। इस समाराेह की खासियत ये है कि कलाकार इसमें हर साल अलग-अलग माध्यमाें पर चित्रकारी करके ‘सेव द एन्वायर्नमेंट’ के मैसेज के साथ प्रदेश में सुवर्षा की कामना करते हैं। इस साल के इवेंट में हाथ से झलने वाले पंखे काे माध्यम बनाया गया है। देसी भाषा में इस पंखे काे बीझणी कहा जाता है। इस पर कलाकार कंटम्परेरी अाैर ट्रेडिशनल अंदाज में चित्रकारी करेंगे। क्रिएशन के बाद ये सभी कलाकार इन पंखाें काे अपने हाथाें में लेकर शहर में पैदल मार्च भी निकालेंगे ताकि लाेगाें काे एनवायर्नमेंट कोे बचाने के लिए प्रेरित किया जा सके।

परम्परा का अंग : कई माध्यमाें की हाेंगी बीझणियां

समाराेह संयाेजक चित्रकार डाॅ. विद्या सागर उपाध्याय अाैर विनय शर्मा ने बताया कि बींझणियां पारंपरिक रूप से ताे बांस की खपच्चियाें अाैर खजूर के पत्ताें से बनाई जाती हैं लेकिन इस समाराेह के लिए इनके अलावा कई अन्य माध्यमाें की बींझणियां भी बनवाई जा रही हैं। इनमें डाॅ. मीनू श्रीवास्तव के संयाेजन में कैनवास की बीझणियां बनवाई जा रही हैं। इसके अलावा विनय शर्मा अपने संग्रह से 70 से 90 साल पुरानी 5 विंटेज बीझणियां भी उपलब्ध करवाएंगे। ये बींझणियां गिलट, चांदी, गुजरात की बीड्स अाैर रेशमी कपड़ाें से बनी हुई हैं। संयाेजकाें ने बताया कि बींझणी काे माध्यम बनाने की इसलिए प्लानिंग की क्याेंकि हम अाज एेसी वस्तुअाें काे भूलते जा रहे हैं जबकि ये हमारी परंपरा का अंग हैं। किसी जमाने में ये कुटीर उद्याेग का हिस्सा था जाे अाज बंद हाे गया है।

राेचक पहलू : दुल्हन के दहेज में जाती थी बींझणी

एक जमाने में ग्रामीण महिलाअाें के गृह उद्याेग का यह प्रमुख माध्यम हुअा करता था। पहले दहेज में दुल्हन के हाथ की बनाई बींझणी काे भी साथ भेजा जाता था।

बढ़ता दायरा : इन शहराें में भी हाेगा रंग मल्हार

दसवां रंग मल्हार इस बार जयपुर के अलावा उदयपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, नाथद्वारा, बांसवाड़ा, डूंगरपुर, टाेंक, बूंदी, काेटा, लालसाेट, सीकर, जालाैर, जाेधपुर, बीकानेर अाैर गंगानगर में भी इस दिन अायाेजित किया जाएगा।

Jaipur News - rajasthan news malhar will celebrate 1500 artist39s paintings on hand fan
Jaipur News - rajasthan news malhar will celebrate 1500 artist39s paintings on hand fan
X
Jaipur News - rajasthan news malhar will celebrate 1500 artist39s paintings on hand fan
Jaipur News - rajasthan news malhar will celebrate 1500 artist39s paintings on hand fan
Jaipur News - rajasthan news malhar will celebrate 1500 artist39s paintings on hand fan
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना