पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Jaipur News Rajasthan News Metra Certificate Of Chandpale Badi Chaupar Received In 4 Days

चांदपाेल-बड़ी चौपड़ की मेट्राे काे 4 दिन में मिला सर्टिफिकेट

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

चांदपाेल से बड़ी चौपड़ के बीच चलने वाली मेट्राे काे कमिश्नर रेलवे सेफ्टी (सीआरएस) से हरी झंडी मिल गई है। कमिश्नर ने मुंबई में अवकाश के दिन दफ्तर खाेलकर रविवार काे जयपुर मेट्राे काे सर्टिफिकेट जारी किया है। सर्टिफिकेट मिलने के बाद अब चांदपोल से बड़ी चौपड़ तक चलने वाली मेट्राे काे सरकार की हरी झंडी मिलना बाकी है। जयपुर मैट्रो के परियोजना निदेशक सुबोध कुमार जिंदल ने दावा किया है कि किसी भी सीआरएस द्वारा दी गई यह मंजूरी सबसे शीघ्र है, जबकि फेज-1बी काे सीआरएस से मंजूरी मिलने में 8 महीने का समय लग गया।

मेट्राे के निरीक्षण के लिए सीआरएस 16 मार्च काे जयपुर अाए थे। दाे दिन के परीक्षण के बाद 18 मार्च काे चले गए थे। मेट्राे अफसरों के सफल काम की वजह से चार दिन में सीआरएस ने मेट्राे काे संचालन की मंजूरी दे दी। वहीं फेज1बी के साथ फेज1ए की गति सीमा भी अब 60 किमी प्रति घंटे से बढ़कर 80 किमी प्रति घंटे करने का विराेध कर रहे थे, लेकिन डायरेक्टर प्रोजेक्ट के बेहतर काम अाैर अनुरोध के बाद मंजूरी मिल गई है। गति बढ़ाने का प्रोजेक्ट गत तीन साल से लंबित चल रहा था। मंजूरी के बाद अब जयपुर के निवासी मानसरोवर से बढ़ी चौपड़ तक 80 किमी प्रति घंटे की गति से यात्रा का आनन्द ले सकेंगे। इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में अहम भूमिका मेट्रो अफसर सुबोध कुमार जिंदल और उनकी टीम की रही।

काेराेना के बाद ही शुरू हाे सकेंगे मेट्राे

मेट्राे काे भले ही सुरक्षा प्रमाण-पत्र मिल गया हाे, लेकिन लाेगाें काे इसकी सुविधा काेराेना वायरस खत्म हाेने के बाद ही मिल सकेगी। मेट्राे अफसरों ने बताया कि मुख्यमंत्री से बडी चौपड़ के बीच इस वित्तीय वर्ष में मेट्राे लाेगाें काे सौपना चाहते थे। बजट में इसकी घोषणा की गई थी,लेकिन एक समय यह कार्य 31 मार्च से पूर्व पुरा करना काफी मुश्किल लग रहा था। जेएमआरसी टीम ने इस काम काे पूरा किया।

खबरें और भी हैं...