पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अब अाईसीअाईसीअाई के जरिए चेक क्लीयरिंग

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर। यस बैंक के वित्तीय संकट में फंसने के बाद राज्य के अपेक्स ने अपना चैंक क्लीयरिंग बैंक बदल लिया है। रिजर्व बैंक द्वारा यस बैंक के लेनदेन पर राेक लगाने के बाद अपेक्स बैंक खाताधारकाें के करीब 1 कराेड़ रुपए के चैक क्लीयर हाेने से रूक गए थे। खाताधारकाें की शिकायत के बाद अपेक्स बैंक प्रबंधन ने अाईसीअाईसी बैंक काे अपना चैक क्लीयरिंग बैंक बनाया है। दरअसल, 2014 से अपेक्स का चैक क्लीयरिंग बैंक यस बैंक था अाैर हाल में वित्तीय लेनदेन पर राेक लगने के बाद अपेक्स बैंक खाताधारकाें के सामने परेशानी खड़ी हाे गई थी। एक दिन में करीब 1 कराेड़ रुपए के चैक अटक गए थे। इसके अलावा अपेक्स बैंक के 12 लाख रुपए डिपाेजिट के रूप में जमा था। अपेक्स बैंक की राज्यभर में 17 ब्रांच है अाैर ज्यादातर खाताधारक किसान है। 2014 से अपेक्स बैंक के चैक क्लीयरिंग यस बैंक के जरिए हाेती थी, क्याेंकि अपेक्स बैंक मापदंड पूरे नहीं कर पाने कारण एनपीसीअाई का सदस्य नहीं था।
खबरें और भी हैं...