पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Jaipur News Rajasthan News Periodicity Irregularity Will Diagnose Biopsy

पीरियड की अनियमितता डायग्नोस करेगी बॉयोप्सी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

डॉ.आदर्श भार्गव, पूर्व अधीक्षक, जनाना, डॉ. प्रेमलता मित्तल, सीनियर प्रोफेसर, महिला चिकित्सालय, जयपुर

एडिशनल सप्लीमेंट लेने
में लापरवाही नहीं बरतें


पुरुष व घर की देखभाल में महिलाएं समय खाना लेना नहीं छोडें। यह उनकी हैल्थ के लिए नुकसानदायक है। अगर डाइट से विटामिंस, मिनरल्स, कैल्शियम की पूर्ति नहीं हो पा रही है। एडिशनल सप्लीमेंट लें। ये सप्लीमेंट लेने में लापरवाही नहीं बरतें। अक्सर महिलाएं ये सप्लीमेंट लेना अवॉइड कर देती है।

बच्चे की तरह मां प्रेग्नेंसी में खुद की जन्मपत्री बनवाएं

बच्चे के जन्म पर जिस तरह जन्मपत्री तैयार की जाती है। इसी तरह प्रेग्नेंसी के दौरान मां खुद की जन्मपत्री भी तैयार करें। जिसमें ब्लड ग्रुप, थैलेसिमिया स्क्रीनिंग, रुबेला सहित अन्य वैक्सीनेशन, हीमोग्लोबिन रिपोर्ट, प्रॉपर डाइट,फॉलिक एसिड, आयरन और अन्य दवाइयों की जानकारी उपलब्ध रहे। ताकि खुद हैल्दी रहने के साथ बच्चा हैल्दी रहे।

आजकल पीरियड में अनियमितता सामान्य परेशानी बन चुकी है। इसके लिए स्ट्रेस बड़ा रिस्क फैक्टर बन रहा है, क्योंकि स्ट्रेस से हॉर्मोनल बदलाव होते हैं। पिटयूटरी ग्लैंड पर असर पड़ता है। इसी वजह से पीरियड अनियमित हो रहे हैं। कई केसों में, अनियमितता की वजह डायग्नोस करने के लिए ऑर्गेनिक पैथोलॉजी टैस्ट किया जाता है। इसमें यूटेराइन केविटी की कन्वेशनल और दूरबीन से बायोप्सी लेते हैं। बॉयोप्सी की रिपोर्ट के आधार पर ट्रीटमेंट देते हैं। इसलिए स्वस्थ रहने के लिए खुद को मोटिवेट करें। न्यूट्रीशियन युक्त डाइट लें और एक्सरसाइज करें।
खबरें और भी हैं...