पांच हजार कर्मियों की सेवानिवृत्ति, प्रमोशन व कोर्ट की फाइलें अटकीं

Jaipur News - जयपुर| जलदाय विभाग में टेक्निकल व मंत्रालयिक कर्मचारियों व जूनियर इंजीनियर तक की सेवानिवृत्ति, प्रमोशन, वेतन...

Jan 16, 2020, 08:25 AM IST
जयपुर| जलदाय विभाग में टेक्निकल व मंत्रालयिक कर्मचारियों व जूनियर इंजीनियर तक की सेवानिवृत्ति, प्रमोशन, वेतन विसंगति, ग्रेच्युएटी, डेपुटेशन, कोर्ट केस, विजिलेंस, क्वालिटी कंट्रोल व ट्रांसफर के करीब पांच हजार मामलों की फाइलें चीफ इंजीनियर (प्रशासन) की टेबल व उनकी विंग में अटके हुए। विभाग में करीब चार महीने से चीफ इंजीनियर प्रशासन का पद खाली है। हालांकि 31 दिसंबर को केवल चार घंटे के लिए महेश गुप्ता को यहां लगाया था, लेकिन उन्होंने केवल दो-चार फाइलें ही निपटाई।

हालांकि कर्मचारी संगठनों के दबाव में सरकार ने बुधवार शाम को चीफ इंजीनियर (स्पेशल प्रोजेक्ट) सीएम चौहान को ही चीफ इंजीनियर प्रशासन का अतिरिक्त चार्ज दिया है। जबकि चौहान पहले ही चीफ इंजीनियर अरबन व हैडक्वार्टर का काम देख रहे है। पिछले चार महीने में 500 से ज्यादा कर्मचारी सेवानिवृत्त हो गए है, लेकिन सीई (प्रशासन) नहीं होने से उनको नौकरी के परिलाभ नहीं मिल रहे है। विभाग में स्थायी तौर पर चीफ इंजीनियर प्रशासन नहीं होने से कई कैडर में दो-तीन साल से डीपीसी व प्रमोशन नहीं हो पा रहे है। वहीं मृत आश्रित कर्मचारियों की नियुक्ति उलझी हुई है।



X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना