• Hindi News
  • National
  • Jaipur News Rajasthan News Tour Operators Canceled All Tours Foreign Tourists Are Reaching Embassy

टूर ऑपरेटर्स ने कैंसिल किए सभी टूर, एम्बेसी तक पहुंचा रहे हैं विदेशी टूरिस्ट

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना वायरस के संक्रमण का असर अब सभी सेक्टर्स में दिखने लगा है। खासकर प्रदेश का एक बड़ा हिस्सा पर्यटन अब इससे बुरी तरह प्रभावित होता दिख रहा है। प्रदेश में सरकार के आदेश के बाद से शहर के टूर ऑपरेटर्स ने विजिटर्स के लिए ट्रिप अरेंज करने पर अगले कुछ दिनों तक रोक लगा दिया है। साथ ही जयपुर में अब तक जितने फॉरेन विजिटर्स आए थे, उन्हें टूर ऑपरेटर्स ने भी जयपुर छोड़कर जाने के एडवाइजरी दे दी है। गौरतलब है कि पुणे पुलिस ने भी हाल ही में पुलिस अधिनियम के तहत टूर ऑपरेटर्स पर देश में और देश के बाहर यात्राओं की व्यवस्था करने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

विजिटर्स के लिए नहीं कर रहे कोई ट्रिप प्लान

टूर अॉपरेटर संजय कौशिक कहते है, सरकार ने 15 अप्रैल तक वीजा पर रोक लगा दी है। ऐसे में 15 मार्च से लेकर 15 अप्रैल तक कम से कम 200 करोड़ का नुकसान प्रदेश के टूरिज्म को होने की आंशका है। कोरोना के असर को देखते हुए हम भी किसी तरीके भी ग्रुप के लिए ट्रिप अरेंज नहीं कर रहे हैं। प्रदेश के सभी आर्कियोलॉजी के मॉन्यूमेंट्स और म्यूजियम 31 मार्च तक बंद करने के आदेश जारी हो चुके हैं। राजस्थान टूर अॉपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष कुलदीप सिंह चंदेला कहते हैं, काेराेना के इम्पैक्ट के कारण टूर अाैर ट्रैवल पर सबसे ज्यादा असर पड़ा है। कई इंटरनेशनल फ्लाइट्स कैंसिल हो गई हैं। कई देशाें ने ट्रेवल न करने की गाइडलाइन इशू की है। ऐसे में एसाेसिएशन के 60 मेंबर्स भी फॉरेन विजिटर्स अपने देश लौटने का सुझाव व सपाेर्ट दे रहे हैं।

एम्बेसी से कॉन्टेक्ट कर देश वापस भेजने की तैयारियां

राटो के पूर्व प्रेजीडेंट खालिद खान कहते हैं, अभी तक जितने भी फॉरेन विजिटर्स जयपुर आए थे, उन्हें हमने दिल्ली भेजने के लिए व्यवस्था की। लेकिन समस्या यह भी है कि अधिकतर इंटरनेशनल फ्लाइट्स कैंसिल कर दी गई हैं। ऐसे में कई देशों के विजिटर्स के लिए अपने देशों में लौटना मुश्किल हो गया है। एेसे में हम टूरिस्ट को वापस भेजने के लिए उनके देशों की एम्बेसी, एयरलाइन्स अाैर पार्टनर फाॅरेन टूर अाॅपरेटर्स से कॉन्टेक्ट कर रहे हैं।

प्रदेश में अधिकतर टूरिस्ट यूरोप से आते हैं। फिलहाल यूरोप में ही सबसे ज्यादा असर कोरोना का देखने को मिल रहा है, ऐसे में अगले 6 महीनों में विदेशी टूरिस्टों का प्रदेश में घूमने के लिए आना लगभग मुश्किल ही है। क्योंकि इस स्थिति के बाद कई देशों की आर्थिक व्यवस्था बुरी तरह से चरमरा जाएगी। वहीं हमने अगले 15 दिनों के लिए अपने अॉफिस भी बंद कर दिए हैं।

खबरें और भी हैं...