पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Jaipur News Rajasthan News Transportation Closed Staff Said How Will The Hospital Come We Don39t Even Have A Bike

ट्रांसपोर्टेशन बंद स्टाफ बोला- कैसे आएंगे अस्पताल, हमारे पास बाइक भी नहीं है

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

लॉकडाउन के बाद ट्रांसपोर्टेशन बंद कर दिया गया है। ऐसे में एसएमएस अस्पताल में काम करने वाले कई संविदाकर्मियों के अस्पताल आने-जाने पर ही सवालिया निशान खड़े हो गए हैं। इन कर्मियों ने कहा है कि उनके पास बाइक या अन्य संसाधन नहीं हैं और ऐसे में वे अस्पताल कैसे आएंगे-जाएंगे। जबकि वे इमरजेंसी सहित आइसोलेशन और अन्य व्यवस्थाओं से जुड़े हैं। कर्मियों ने कहा कि उन्हें भुगतान के पांच छह हजार रुपए मिलते हैं, ऐसे में वे रोज कैब से भी नहीं आ जा सकते। ऐसे में यदि एंबुलेंस या अन्य व्यवस्था कर दी जाए तो वे समय पर अस्पताल आकर सेवाएं दे सकेंगे। मालूम हो कि अस्पताल में हजारों संविदाकर्मी काम करते हैं और इनमें से कई ऐसे हैं, जिनके पास कोई संसाधन नहीं हैं।

लॉकडाउन इम्पैक्ट : किसी भी मरीज को भर्ती नहीं किया जाएगा

जयपुर | एसएमएस मेडिकल कॉलेज से सम्बद्ध सभी अस्पतालों और अन्य किन्हीं भी सरकारी अस्पताल में रूटीन और परचिट (घर से मरीज को भेजकर भर्ती करने का सिस्टम) एडमिशन नहीं होंगे। एसएमएस मेडिकल कॉलेज प्रिंसीपल ने शुक्रवार रात आदेश जारी किए हैं। प्रिंसीपल डॉ सुधीर भंडारी ने बताया कि अस्पतालों में भीड़ नहीं हो, इसके लिए यह व्यवस्था की गई है। एक्सीडेंट और इमरजेंसी केस ही अस्पताल में भर्ती किए जाएंगे।
खबरें और भी हैं...