• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jaipur
  • News
  • Jaipur News rajasthan news unregistered boys were selling other medicines instead of prescription drugs caught suspended shop licenses

बिना डिग्री लड़के बेच रहे थे डॉक्टर की लिखी दवा की जगह दूसरी दवाएं, पकड़े गए, दुकान लाइसेंस निलंबित

Jaipur News - जयपुर | सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार पर ही डॉक्टर के द्वारा लिखी दवा के स्थान पर दूसरी दवा बेचने के धंधे चल रहे हैं।...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:35 AM IST
Jaipur News - rajasthan news unregistered boys were selling other medicines instead of prescription drugs caught suspended shop licenses
जयपुर | सहकारी उपभोक्ता होलसेल भंडार पर ही डॉक्टर के द्वारा लिखी दवा के स्थान पर दूसरी दवा बेचने के धंधे चल रहे हैं। रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट की जगह दूसरे ही बिना किसी प्रमाण पत्र वाले व्यक्ति दवाएं दे रहे थे। एक साथ सात-सात सिरप और दवाएं बिना बिल के ही बेच कर लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ के धंधे पर औषधि नियंत्रण संगठन की कार्रवाई हुई है। भारी घपला पकड़े जाने पर अलवर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भण्डार शाॅप नम्बर-5 का तो लाइसेंस निलम्बित किया गया है। कई और पर कार्रवाई जारी है।

औषधि नियंत्रण संगठन ने औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट अनुपस्थित मिलने, अनधिकृत व्यक्ति द्वारा विक्रय बिल जारी करने पर अलवर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भण्डार शाॅप नम्बर-5 का लाइसेंस निलम्बित किया। इस फर्म का लाइसेंस 7 दिवस व 30 दिवस के लिए अलग-अलग आदेशों द्वारा निलम्बित किया जा चुका है। यह निलंबन 25 जून से एक जुलाई 2019 तक तथा 16 जुलाई से 14 अगस्त 2019 तक के लिए प्रभावी रहेगा।

औषधि नियत्रंक राजाराम शर्मा ने बताया कि अलवर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भण्डार शाॅप नम्बर-5 का 5 दिसम्बर 2018, 27 व 28 मार्च 2019 का औषधि नियंत्रण अधिकारियों द्वारा निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान संबंधित फर्म पर रजिस्टर्ड फार्मासिस्ट अनुपस्थित मिला एवं अनधिकृत व्यक्ति द्वारा विक्रय बिल जारी किया जाना पाया गया। चिकित्सक द्वारा लिखी गई दवा के स्थान पर अन्य दवा बेची जा रही थी। साथ ही निरीक्षण के दौरान मेटनर्व, एरिपेंट-डीएक्सआर, माई सिड सिरप, डी-क्लब सिरप, डाई क्लब जेल, एजोफेन जेल, क्रिसफर सिरप, जैसी औषधियों के विक्रय बिल प्रस्तुत नहीं किए गए। बिल काटे ही नहीं गए। औषधि के क्रय बिल के अनुसार फर्म द्वारा कुल 75 ईलाकोफ डी सिरप 100 मिलीलीटर क्रय की गई थी, लेकिन निरीक्षण के दौरान उक्त औषधि का फिजिकल स्टाक 20 पाया गया। कम्प्यूटर स्टाक निल था। जिससे यह प्रतीत होता है कि फर्म द्वारा विक्रय की गई 55 ईलाकोफ डी सिरप कम्प्यूटर में बिना इन्द्राज किए ही किसी अन्य औषधि की जगह बदलकर दी गई।

X
Jaipur News - rajasthan news unregistered boys were selling other medicines instead of prescription drugs caught suspended shop licenses
COMMENT