--Advertisement--

राजस्थान युनिवर्सिटी / राजस्थान छात्रसंघ चुनाव: पहली बार निर्दलीय एससी प्रत्याशी विनोद जाखड़ अध्यक्ष पद पर जीते



Rajasthan university election result 2018
X
Rajasthan university election result 2018

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2018, 06:27 PM IST

जयपुर. राजस्थान विश्वविद्यालय में पहली बार निर्दलीय एससी प्रत्याशी विनोद जाखड़ ने जीत हासिल की है। विनोद जाखड़ ने 1860 वोटों से ये जीत हासिल की है। इसके साथ उपाध्यक्ष पद पर एनएसयूआई की रेणू चौधरी विजयी रही है। वहीं महासचिव पद पर भी एनएसयूआई के आदित्य प्रताप सिंह, संयुक्त सचिव पद विध्यार्थी परिक्षद की मीनल शर्मा ने जीत हासिल की। प्रदेश के छह संभागों में 31 अगस्त को मतदान हुआ था। 

 

जयपुर में ऐसा रहा परिणाम

 

जयपुर कॉमर्स कॉलेज का परिणाम घोषित कर दिया गया है। यहां अध्यक्ष पद पर राजेन्द्र प्रजापत जीते। वहीं उपाध्यक्ष के लिए सूरज गोडीवाल,  महासचिव पर निहार स्वामी और संयुक्त सचिव पर एकलव्य यादव ने जीत हासिल की। इसके साथ महाराजा कॉलेज अध्यक्ष पद पर रोहित शर्मा ने जीत हासिल की है। उन्हे कुल 719 वोट मिले। वहीं महासचिव द पर राजूलाल रैगर ने 925 वोट के साथ जीत हासिल की। इसके साथ अंकित विजय संयुक्त सचिव और सुरेश पूनिया उपाध्यक्ष पद जीते। 

 

महारानी कॉलेज में रितु बराला ने छात्रसंघ अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है। वहीं फातमा उपाध्यक्ष, ज्योती मीणा महासचिव और मोनिका राठौर संयुक्त सचिव पद पर विजयी रही। राजस्थान कॉलेज में रविंद्र महलावत अध्यक्ष पद पर विजयी रहे। इसके साथ सोनू बुनकर उपाध्यक्ष, इरफान महासचिव और सुरेश कुमार मीणा संयुक्त सचिव पद पर जीत हासिल की। 

 

संस्कृत और लॉ कॉलेज का ये रहा परिणाम

 

राजस्थान संस्कृत विश्वविद्यालय में एबीवीपी ने परचम फहराया है। यहां अध्यक्ष पद पर मुकेश उपाध्याय ने जीत हासिल की। उपाध्यक्ष पद पर योगेश गौतम ने जीते। लॉ कॉलेज मॉर्निंग में अर्चना मीणा अध्यक्ष पद पर विजयी रही हैं। वहीं उपाध्यक्ष पद पर पद्मनाथ सिद्ध, महासचिव पर सुनील सैनी ने जीत दर्ज की है।

 

भरतपुर: स्वर्गीय श्री राम भरोसे लाल वर्मा राजकीय आचार्य संस्कृत कॉलेज भरतपुर छात्र संघ के अध्यक्ष पद पर निर्दलीय प्रत्याशी कपिल देव 111 मत प्राप्त कर विजय रहे। जबकि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की प्रत्याशी निशा कुमारी को 62 मत प्राप्त हुए। यहां कुल 174 मत डाले गए थे जिनमें एक मत निरस्त हो गया। वहीं महाराजा सूरजमल बृज विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष चुनाव में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रत्याशी दिनेश भातरा 73 मत प्राप्त कर 53 मतों के अंतर से विजय रहे। उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी अंकिता शर्मा को पराजित किया। अंकिता शर्मा मात्र 20 मत प्राप्त किए। आर डी गर्ल्स कॉलेज पर भरतपुर छात्रसंघ अध्यक्ष पद की अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद प्रत्याशी अंजली चौधरी 864 मत प्राप्त कर एनएसयूआई की प्रत्याशी हेमलता कटारा से 429 मतों के अंतर से विजय रही।  एमएसजे कॉलेज भरतपुर छात्र संघ अध्यक्ष एनएसयूआई  प्रत्याशी सागर सिंह ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के मोनू कुमार को 297 मतों के अंतर से हराया।

 

कहां क्या रहा परिणाम

 

उदयपुर: मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी के हिमांशु बागड़ी ने जीत हासिल की। वहीं महासचिव पद पर पद्मसिंह देवड़ा ने जीत दर्ज की।

अजमेर: अजमेर संस्कृत कॉलेज की सभी सीटों पर एनएसयूआई ने बाजी मारी है। यहां अध्यक्ष पद पर कालू सिंह सोलंकी को जीत हासिल हुई। वहीं महासचिव पद प्रश्नजीत सिंह ने अपने नाम की। उपाध्यक्ष पर लता व संयुक्त सचिव पर पवन डाबरिया निर्विरोध निर्वाचित हुए।

कोटा : यहां राजकीय विधि महाविद्यालय का परिणाम घोषित कर दिया गया है। जिसमें अध्यक्ष पद पर निर्दलीय बुद्धराज ने जीत हासिल की है।

बूंदी: यहां के राजकीय कन्या महाविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर एबीवीपी की साक्षी चौहान ने जीत हासिल की। इसके साथ उपाध्यक्ष पद पर एबीवीपी की प्रियंका सैनी, महासचिव पद पर एबीवीपी की सलोनी शर्मा और मीनाक्षी चौधरी निर्विरोध  सह सचिव बनी।

 

क्यों भारी रहे बागी

 

विनोद जाखड़ की जीत की वजह इनकी छात्रों के बीच अच्छी पैठ है। साथ ही संगठनों ने अपने प्रत्याशियों से भारी-भरकम पैसा खर्च करवाया, बागी अपने दम पर रहे। राजस्थान यूनिवर्सिटी में वर्ष 2016 और 2017 में भी निर्दलीय प्रत्याशी ही चुनाव जीते थे। जीतने वाले एबीवीपी के बागी थे। दरअसल आम संगठनों द्वारा रुपए लेकर और खर्चा कराकर चुनाव लड़ाने की परम्परा आम छात्र को पसंद नहीं है। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..