जयपुर / एसएमएस अस्पताल के वार्ड में डॉक्टर ने मरीज को बेड पर चढ़कर पीटा, वीडियो वायरल



वायरल वीडियो में मरीज से मारपीट करते नजर आया रेजीडेंट वायरल वीडियो में मरीज से मारपीट करते नजर आया रेजीडेंट
गुस्से में रेजीडेंट बिस्तर पर चढ़ा और लात-घूंसे बरसाए गुस्से में रेजीडेंट बिस्तर पर चढ़ा और लात-घूंसे बरसाए
X
वायरल वीडियो में मरीज से मारपीट करते नजर आया रेजीडेंटवायरल वीडियो में मरीज से मारपीट करते नजर आया रेजीडेंट
गुस्से में रेजीडेंट बिस्तर पर चढ़ा और लात-घूंसे बरसाएगुस्से में रेजीडेंट बिस्तर पर चढ़ा और लात-घूंसे बरसाए

  • वार्ड नंबर 1 सी में रेजीडेंट सुनील पर है मारपीट का आरोप
  • मारपीट के कारणों की जांच में  जुटा अस्पताल प्रबंधन व पुलिस

Dainik Bhaskar

Jun 03, 2019, 08:02 PM IST

जयपुर. प्रदेश के सबसे बड़े एसएमएस अस्पताल के एक वार्ड में रेजीडेंट डॉक्टर ने मरीज की पिटाई कर दी। दो दिन पुरानी इस घटना का सोमवार को वीडियो वायरल हुआ। वीडियो में डॉक्टर बेड पर चढ़कर मरीज को पीटते नजर आ रहा है। वीडियो वायरल होते ही अस्पताल प्रबंधन से जुड़े अधिकारियों में हलचल मच गई। यह वायरल वीडियो मानवाधिकार आयोग व चिकित्सा स्वास्थ्य मंत्री तक भी पहुंचा, जिन्होंने मामले में जांच के निर्देश दिए है।

 

 

गुस्सा इतना कि रेजीडेंट बैड पर चढ़कर लात घूंसे बरसाने लगा, मूकदर्शक बनकर देखते रहे मरीज व परिजन

  1. प्रारंभिक जानकारी में मारपीट कर रहे रेजीडेंट का नाम सुनील बताया जा रहा है। वहीं, यह वीडियो एसएमएस अस्पताल के वार्ड नंबर 1 सी का होने की जानकारी मिली है। प्रारंभिक तौर पर सामने आया है कि मरीज की वार्ड में किसी सीनियर डॉक्टर से कोई बात हो गई थी। 

  2. इससे गुस्साए रेजीडेंट की मरीज व उनके रिश्तेदारों से कहासुनी हो गई। विवाद बढ़ा तो तैश में आकर रेजीडेंट ने हाथापाई शुरु कर दी। वह बैड पर चढ़कर मरीज पर ताबड़तोड़ लात-घूंसे बरसाने लगा। इसी बीच एप्रेन पहुंचे एक डॉक्टर ने रेजीडेंट को रोकने की भी कोशिश की।

  3. लेकिन वार्ड में मौजूद अन्य मरीजों के परिजनों ने मारपीट को अपने मोबाइल फोन में रिकार्ड कर लिया। वायरल वीडियो में एक व्यक्ति यह भी बोल रहा है कि देखिए किस तरह एसएमएस अस्पताल में मरीजों से डॉक्टर मारपीट करते है। इस बीच वहां मौजूद मरीजों के परिजनों में अफरा तफरी मच गई। वे मरीज को बचाने के बजाए मूकदर्शक बनकर देखते रहे।

  4. वीडियो को गंभीरता से लेते हुए मानवाधिकार आयोग ने 25 जून तक मामले की रिपोर्ट तैयार कर भेजने के निर्देश दिए है। वहीं, मोतीडूंगरी थाना पुलिस का कहना है कि इस संबंध में किसी पक्ष ने अभी तक एफआईआर दर्ज नहीं करवाई है। नाहीं, किसी ने पुलिस को कोई शिकायत दी है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना