पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

संघ नेता ने खुद को लगाई आग, सड़क पर दौड़ते हुए लगाए भारत माता के जयकारे

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर.  राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वैशालीनगर कार्यवाह ने आम्रपाली चौराहे पर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा ली। 45 वर्षीय रघुवीर शरण अग्रवाल करीब 100 मीटर तक भारत माता की जयकारे लगाते हुए दौड़ते रहे। वे 80 फीसदी जल गए। परिवार वाले उन्हें इलाज के लिए दिल्ली ले गए हैं। 

 

 

बोले- भाई से भाई को लड़वा रहे

- बताया जा रहा है कि रघुवीर शरण ने सोशल मीडिया पर चार दिन पहले एक पत्र भी शेयर किया था। हालांकि, इसमें उनका नाम और तारीख नहीं है, लेकिन पत्र में लिखा है कि स्वप्न में मैंने भारत माता की वह करुण चीत्कार सुनी और देखा कि चारों तरफ गिद्ध मंडरा रहे हैं। जब हम दूसरों के बहकावे में आ जाते हैं तो चाहे कोई भी हो, उसका स्वयं का विवेक शून्य हो जाता है और तब तक इतना भयंकर नुकसान हो जाता है। भाई से भाई को लड़वा कर अपना स्वार्थ सिद्ध करना चाहते हैं।

 

पहले घर पर फोन भी किया
- व्यापारी रघुवीर शरण अग्रवाल वैशाली नगर में क्राउन प्लाजा स्थित फ्लैट में रहते हैं। उनकी नर्सरी सर्किल के पास सी ब्लॉक में किरण मेडिकल्स के नाम से मेडिकल की दुकान है। - रविवार सुबह पांच बजे वे अकेले ही वॉक के लिए घर से निकले थे। वे आम्रपाली चौराहे पर पहुंचे और पेट्रोल छिड़ककर खुद को आग लगा ली। इससे पहले घर पर फोन भी किया था।

- घटनास्थल के पास ही डेयरी चलाने वाले अशोक शर्मा ने बताया कि जलता हुआ शख्स भारत माता के जयकारे लगा रहा था। आसपास के लोगों की मदद से पानी डालकर आग बुझाई। पुलिस को मौके पर पेट्रोल की खाली बोतल मिली है।

 

कहा-समाज में बढ़ती कटुता से परेशान हूं
- सवाई मानसिंह अस्पताल में पुलिस को दिए बयानों में रघुवीर शरण ने समाज में फैल रही कटुता और वैमनस्यता से परेशान होकर खुद को आग लगाने की बात कही है।

- हालांकि, पुलिस के मुताबिक, घरेलू परेशानी की बातें भी सामने आ रही हैं। स्थानीय लोगों ने बताया कि रघुवीर शरण रोजाना आम्रपाली सर्किल के पास आरएसएस की शाखा लगाते हैं।

 

 

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

    और पढ़ें