जयपुर / इंदिरा गांधी नगर के 150 फ्लैटों पर पुलिस का सर्च ऑपरेशन; 41 संदिग्ध गिरफ्तार, 14 बाइकें भी जब्त

इंदिरा गांधी नगर में हाउसिंग बाोर्ड के फ्लैट्स में खड़ी गाड़ियों को जांच करती पुलिस इंदिरा गांधी नगर में हाउसिंग बाोर्ड के फ्लैट्स में खड़ी गाड़ियों को जांच करती पुलिस
इस पुलिस टीम के नेतृत्व में ऑपेशन चलाया गया। इस पुलिस टीम के नेतृत्व में ऑपेशन चलाया गया।
फ्लैट्स से सर्च ऑपरशन के दौरान वहां से संदिग्धों को भी ले जाया गया फ्लैट्स से सर्च ऑपरशन के दौरान वहां से संदिग्धों को भी ले जाया गया
X
इंदिरा गांधी नगर में हाउसिंग बाोर्ड के फ्लैट्स में खड़ी गाड़ियों को जांच करती पुलिसइंदिरा गांधी नगर में हाउसिंग बाोर्ड के फ्लैट्स में खड़ी गाड़ियों को जांच करती पुलिस
इस पुलिस टीम के नेतृत्व में ऑपेशन चलाया गया।इस पुलिस टीम के नेतृत्व में ऑपेशन चलाया गया।
फ्लैट्स से सर्च ऑपरशन के दौरान वहां से संदिग्धों को भी ले जाया गयाफ्लैट्स से सर्च ऑपरशन के दौरान वहां से संदिग्धों को भी ले जाया गया

  • हाउसिंग बोर्ड के फ्लैटों में अवैध रूप से रह रहे लोगों की एकमुश्त धरपकड़
  • अवैध रूप से रह रहे लोगों में एक कश्मीर का, कई के पास कोई पहचानपत्र भी नहीं

दैनिक भास्कर

Jan 17, 2020, 01:02 AM IST

जयपुर. राजधानी में हाउसिंग बोर्ड के अपार्टमेंट में अवैध रूप से रह रहे लोगों के खिलाफ कमिश्नरेट के ईस्ट जिला पुलिस ने गुरुवार को बड़ी कार्रवाई की। खोह नागोरिया इलाका में इंदिरा गांधी नगर सेक्टर 10 स्थित नवलगिरी, धवल गिरी और उदयगिरी अपार्टमेंट के 150 फ्लैटों में सर्च कर पुलिस ने 73 लोगों को पकड़ा।

इनमें से 41 लोगों अवैध रूप से रहते मिले। इन लोगों के खिलाफ पुलिस ने शांतिभंग में मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया हैं। इसके अलावा पुलिस ने 14 बाइक भी जब्त की हैं। जिनके दस्तावेज नहीं मिले। इस कार्रवाई में मुहाना थाना इलाके से भागा एक कपल भी मिला। दिसंबर माह में युवती की मुहाना थाना में गुमशुदगी दर्ज हुई थी। जिसे थाना पुलिस को सौंप दिया गया हैं।


डीसीपी राहुल जैन ने बताया कि खोह नागोरिया थाना इलाके में इंदिरा गांधी नगर स्थित नवलगिरी, धवल गिरी और उदयगिरी अपार्टमेंट में दबिश दी गई थी। यहां कई लोग संदिग्ध रहते मिले। 73 लोगों से पूछताछ की गई। इनमें से 41 लोगों के पास यहां रहने के कोई दस्तावेज नहीं मिले। इनके खिलाफ शांतिभंग में कार्रवाई कर गिरफ्तार किया गया। इसके अलावा संदिग्ध अवस्था में खड़ी 14 बाइकें मिलीं, जिनकी जांच की जा रही हैं। स्थानीय लोगों की शिकायतें आने पर सर्च अभियान चलाया गया था। आगे भी इस तरह की कार्रवाई को जारी रहेगी।

एडिशनल डीसीपी मनोज चौधरी ने बताया कि बाहरी जिलों और अन्य राज्य के लोग यहां अवैध रूप से रहते मिले। इनमें से कुछ परिवार सहित रहते थे। सुबह पांच बजे से आठ बजे तक चार थानों के जाब्ते के साथ दबिश देकर संदिग्धों को पकड़ा हैं। एसीपी मालवीय नगर महेंद्र शर्मा, एसीपी बस्सी सुरेश सांखला, खोह नागाेरिया थानाप्रभारी भवानी सिंह शेखावत, मालवीय नगर थानाप्रभारी अरूण कुमार पूनियां, कानोता थानाधिकारी नरेन्द्र खीचड़ और बस्सी थानाप्रभारी शिवकुमार भारद्वाज के निर्देशन में 80 जवानों की टीम ने कार्रवाई की।

थानाप्रभारी भवानी सिंह ने बताया कि यहां रहने वाले ज्यादातर लोग मकान मालिक से एक व्यक्ति के हिसाब से एग्रीमेंट बनवाते हैं, जबकि वहां 7-8 लोग रहते हैं। इनमें कई लोग परिवार के साथ रहते मिले। जबकि कुछ लोग अकेले रहते हैं।

घर से भागा कपल भी मिला

मुहाना थानाप्रभारी हीरालाल सैनी ने बताया कि 29 दिसंबर को टोंक हाल रामपुरा रोड निवासी 19 वर्षीय सरिता की गुमशुदगी दर्ज हुई थी। उसकी तलाश जारी थी। लेकिन पुलिस को वह इंदिरा गांधी नगर में मिली। खोह नागोरिया पुलिस की सूचना पर उसे लेकर आए थे। कार्रवाई के बाद उसे फ्री छोड़ दिया गया हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना