जयपुर / यूट्यूब पर देखी फिरौती वसूलने की कहानी, फिर गूगल सर्च से मोबाइल नंबर हासिल कर व्यापारी से मांगे 2 करोड़ रुपए

2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगने वाला आरोपी अमित कुमार सिंह 2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगने वाला आरोपी अमित कुमार सिंह
X
2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगने वाला आरोपी अमित कुमार सिंह2 करोड़ रुपए की फिरौती मांगने वाला आरोपी अमित कुमार सिंह

  • बिहार निवासी शातिर बदमाश गिरफ्तार, व्हाट्सएप से कर रहा था धमकी भरे कॉल
  • कारोबारी को फोन कर उसके चार सगे भाईयों की हत्या करने की धमकी देकर मांगे रुपए
  • धमकी देने के लिए किया चोरी के मोबाइल फोन और सिम का प्रयोग, ताकि पकड़ा ना जाए

दैनिक भास्कर

Feb 07, 2020, 07:51 PM IST

जयपुर. शहर कमिश्नरेट की पुलिस ने एक शातिर बदमाश को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। जो कि पिछले पांच दिनों से एक किराणा व्यापारी को व्हाट्सएप कॉल के जरिए उनके चार सगे भाईयों को गोली मारकर हत्या करने की धमकियां दे रहा था और इसके एवज में दो करोड़ रुपए की फिरौती मांग कर रहा था।

मामला पुलिस तक पहुंचा तो पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव की मॉनिटरिंग में क्राइम ब्रांच, सायबर सेल और पूर्व जिले की पुलिस टीम सक्रिय हो गई। तकनीकी आधार पीछा शुरु हुआ। पीड़ित से लगातार चेटिंग करवाकर आरोपी को फिरौती की रकम देने के बहाने जयपुर की तरफ बुलाया गया। जैसे ही ट्रेन में मौजूद आरोपी युवक नागौर जिले के मकराना रेलवे स्टेशन पहुंचा। तभी उसकी लोकेशन ट्रेस करते हुए पुलिस टीम वहां पहुंची और आरोपी को धरदबोचा।

इस तरह की हत्या की धमकी देकर फिरौती मांगने की वारदात

अतिरिक्त पुलिस कमिश्नर अशोक कुमार गुप्ता ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी अमित कुमार सिंह (22) मूल रुप से पटना, बिहार में रहता है। वह कुछ अरसे से यूपी के आलमपुर मेट्रो स्टेशन के पास खानाबदोस रहता है। पूछताछ में उसने बताया कि घर से दूर होने पर रुपयों की जरुरत के चलते उसने यूट्यूब चैनल पर बड़े व्यापारियों से बदमाशों द्वारा फिरौती मांगने की कहानियां देखी थी। ऐसे में उसने भी किसी व्यापारी को धमकाकर रुपए वसूलने की साजिश रची। इसके लिए अमित कुमार ने गूगल सर्च पर व्यापारियों के बारे में जानकारी जुटाई और आखिरकार जयपुर के विनय ट्रेडिंग फर्म के मालिक और थोक किराणा व्यापारी रोमी गोदा के मोबाइल नंबर हासिल कर लिए।

फेसबुक से जुटाई पारिवारिक जानकारी और फिर धमकी देकर मांगे 2 करोड़ रुपए

एडि.सीपी अशोक गुप्ता के मुताबिक अमित ने परिवादी रोमी गोदा की फेसबुक प्रोफाइल खंगाली। जिसमें उनके पांच भाई होने का पता चला। तब अमित ने पटना में एक मोबाइल फोन व सिम चुराई। इसके बाद रोमी गोदा को व्हाट्सएप मैसेज व कॉल के जरिए उसके सगे चार भाईयों की हत्या की धमकियां देनी शुरु कर दी। उनकी जान की सलामती की एवज में दो करोड़ रुपए की फिरौती मांगी।

तब 2 फरवरी को रोमी ने सांगानेर थाने पहुंचकर केस दर्ज करवाया। इसके बाद एडिशनल डीसीपी (पूर्व) मनोज कुमार चौधरी व एडिशनल डीसीपी (क्राइम) विमल सिंह नेहरा के नेतृत्व में पुलिस टीम ने जानकारी जुटाई। जिसमें उसे जयपुर बुलाया गया। इसी बीच उसकी लोकशन पटना, जोधपुर व मकराना आई। अंतिम लोकेशन पर पहुंचकर 25 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की टीम ट्रेन पांच लोकल डिब्बों में चढ़ गई और निगरानी रखी। तब गुरुवार रात 11 बजे अमित कुमार हत्थे चढ़ गया। तलाशी में उसके कब्जे से 10 मोबाइल सिम बरामद की गई। उससे पूछताछ जारी है।

फोटो व रिपोर्ट: उदय चौधरी

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना