--Advertisement--

प्रदेश के शैल्टर होम्स में बच्चे-बच्चियों की सुरक्षा पर निगरानी के लिए राज्य स्तरीय टास्क फोर्स गठित

बाल कल्याण समिति व अन्य विभाग भी 30 अगस्त 2018 तक ऐसे केंद्रों की जांच कर सरकार को रिपोर्ट देंगे

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2018, 05:12 AM IST
सिम्बोलिक इमेज सिम्बोलिक इमेज

जयपुर. बिहार व उप्र में बालिका गृहों में बच्चियों से ज्यादती की घटनाएं सामने आने के बाद राज्य सरकार ने प्रदेश में निगरानी व्यवस्था के लिए राज्य स्तरीय टास्क फोर्स का गठन किया है।

यह फोर्स जन्म से 18 साल तक की आयु के बच्चों से संबंधित सभी प्रकार की गतिविधियां संचालित करने वाले शैल्टर होम्स, आश्रमों, शिक्षा केंद्रों, निजी संस्थाओं, धार्मिक संस्थाओं, गुरुकुल, डे-केयर सेंटर, छात्रावासों की गतिविधियों और उनमें रहने वाले बच्चों की सुरक्षा तथा त्वरित कार्रवाई की जांच करेगी। बाल कल्याण समिति व अन्य विभाग भी सभी जिला कलेक्टरों के मार्गदर्शन में 30 अगस्त 2018 तक ऐसे केंद्रों की जांच कर सरकार को रिपोर्ट भेजेंगे। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग मंत्री डॉ. अरुण चतुर्वेदी की अध्यक्षता में सचिवालय में हुई बैठक में ये निर्णय लिया गया।

X
सिम्बोलिक इमेजसिम्बोलिक इमेज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..