Hindi News »Rajasthan »Jaipur »News» Teacher's Family Looted By Making Hostage

शिक्षक के परिवार को बंधक बना लाखों की लूट; कंट्रोल रूम ने लूट होने की सूचना दी, एसएचओ बोला- थाने पर बताओ

कार्रवाई में लापरवाही बरतने पर एसएचओ लाइन हाजिर

Bhaskar News | Last Modified - Aug 13, 2018, 10:23 AM IST

शिक्षक के परिवार को बंधक बना लाखों की लूट; कंट्रोल रूम ने लूट होने की सूचना दी, एसएचओ बोला- थाने पर बताओ

रुदावल/भरतपुर. उच्चैन-भरतपुर राजमार्ग स्थित नगला धौर में रात साढ़े 11 बजे 6-7 बदमाशों ने रिटायर्ड शिक्षक दंपती और बेटी को बंधक बनाकर ~4 लाख नकदी और 50 तोला सोने के जेवरात लूट लिए। बेटी ने 29 बार 100 नंबर पर पुलिस किया लेकिन बार-बार फोन काटना पड़ा।

कंट्रोल रूम से उच्चैन एसएचओ पुरुषोत्तम को लूट की जानकारी दी गई तो एसएचओ बोला- यह सूचना थाने पर दो, मुझे क्यों बता रहे हो। इधर, घटना के बाद क्षेत्र में नाकाबंदी कराई, लेकिन बदमाश पकड़ में नहीं आए। लगातार लूट और फायरिंग की 2 घटनाएं होने और अपराधों पर काबू न पाने पर थाना प्रभारी को लाइन हाजिर किया है। इससे पहले दंपती की 14 वर्षीय बेटी ने 29 बार 100 नंबर पर फोन करने की कोशिश की, लेकिन कंप्यूटर की आवाज आते ही वह फोन काट देती। अंत में 30वीं बार फाेन लगा।

सीढ़ियों के सहारे अंदर घुसे, पौन घंटे तक घर की तलाशी ली:उच्चैन-भरतपुर राजमार्ग स्थित नगला धौर में रात्रि साढ़े ग्यारह बजे 6-7 बदमाश दीवार के सहारे छत पर चढ़े। सीढिय़ों से मकान के अंदर घुसे। रिटायर्ड शिक्षक दंपत्ति और बेटी को बंधक बनाया। करीब पौन घंटे तक तलाशी लेने के बाद तीन कमरों में रखी आलमारियों से 4 लाख रुपए और 50 तोला सोने के जेवरात लूट ले गए। रोचक यह है कि डरी-सहमी 14 वर्षीय बेटी ने पुलिस को फोन करने की कोशिश की। लेकिन, कंप्यूटर से आवाज आती कि 1 दबाओ, 2 दबाओ। चोरों को पता न चल जाए, इसलिए फिर फोन काट देती। जब बदमाश लूटपाट करके भाग गए तो उसने फिर 100 नंबर पर फोन लगाया, तब जाकर पुलिस आई। आसपास के क्षेत्र में नाकाबंदी भी कराई, लेकिन बदमाश पकड़ में नहीं आए।

चोर घुसे, तो कुत्तों के भौंकने से खुल गई नींद:पुलिस के अनुसार नगला धौर निवासी सेवानिवृत्त शिक्षक महेंद्रसिंह गुर्जर के मकान में जब चोर घुसे तो कुत्तों के भौंकने की आवाज आई। इससे उनकी नींद खुल गई। महेंद्रसिंह और करीब 14 वर्षीय बेटी मोनिका ने जंगले से देखा तो बरामदे में दो बदमाश दिखाई दिए। इस पर उन्होंने बदमाशों को ललकार पुलिस बुलाने की धमकी दी तो वे सीढिय़ों में चढ़ गए। इसके बाद 6-7 बदमाश नीचे आए और जोर से धक्का देकर कमरे के किवाड़ खोल दिए। बदमाशों ने कमरे में घुसते ही महेंद्र सिंह को सरिया मारकर चारपाई पर पटक दिया। चादर से मुंह भी बंद कर दिया। इस तरह बदमाशों ने परिवार के तीनों लोगों को बंधक बना लिया। इसके बाद तीन कमरों में तलाशी ली।

उल्लेखनीय है कि शिक्षक महेंद्रसिंह 31 जुलाई को ही रिटायर हुए हैं। पत्नी राधादेवी खरैरा स्कूल में अध्यापिका है। जबकि बेटी जयपुर में परीक्षाओं की तैयारी कर रहा है। पुत्रवधू भी भरतपुर में अध्यापिका है। लेकिन, वह पीहर में थी। इसलिए घटना के समय घर में वे पति-पत्नी और पुत्री मोनिका ही थी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×