• Home
  • Rajasthan News
  • Jaipur News
  • News
  • Jaipur - समलेटी बम कांड के अभियुक्त को स्थाई पैरोल से इंकार, अर्जी खारिज
--Advertisement--

समलेटी बम कांड के अभियुक्त को स्थाई पैरोल से इंकार, अर्जी खारिज

हाईकोर्ट ने जयपुर-आगरा हाईवे पर 22 साल पहले महुआ के पास समलेटी जगह पर आगरा से बीकानेर जा रही रोडवेज की बस में हुए बम...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 04:30 AM IST
हाईकोर्ट ने जयपुर-आगरा हाईवे पर 22 साल पहले महुआ के पास समलेटी जगह पर आगरा से बीकानेर जा रही रोडवेज की बस में हुए बम कांड में उम्रकैद की सजा काट रहे अभियुक्त पप्पू उर्फ सलीम को स्थाई पैरोल देने से इंकार करते हुए उसके पैरोल प्रार्थना पत्र को खारिज कर दिया।

न्यायाधीश एम.एन.भंडारी व डीसी सोमानी की खंडपीठ ने यह आदेश दिया। अदालत ने कहा कि अभियुक्त की अपील लंबित है और सुनवाई के लिए लग चुकी है। ऐसे में अपील का निस्तारण होने के बाद अर्जी को दायर किया जा सकता है। पप्पू ने अदालत से स्थाई पैरोल पर रिहा करने का आग्रह किया था।

डॉ. अब्दुल हमीद के डेथ रेफरेंस पर सुनवाई जारी: वहीं समलेटी बम ब्लास्ट केस के मुख्य अभियुक्त डॉ. हमीद के डेथ रेफरेंस पर मंगलवार को हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। मामले में बुधवार को भी सुनवाई जारी रहेगी। अभियुक्त हमीद ने अधीनस्थ कोर्ट द्वारा उसे दी गई फांसी की सजा को चुनौती दी है। वहीं अधीनस्थ कोर्ट ने फांसी की सजा की पुष्टि के लिए मामले को हाईकोर्ट भेजा है। गौरतलब है कि मई 1996 में आगरा से बीकानेर जा रही रोडवेज की बस में बम ब्लास्ट हुआ था जिसमें 14 यात्रियों की जान गई थी और 37 लोग घायल हुए थे। इस मामले में बांदीकुई की एडीजे कोर्ट ने 2016 में मुख्य अभियुक्त डॉ. अब्दुल हमीद को फांसी की सजा दी थी जबकि छह अन्य अभियुक्तों को उम्रकैद की सजा दी थी।