--Advertisement--

वर्ड ऑफ द डे : बंद लिफाफा / लिफाफा तय करेगा, दावेदार ने पार्टी की क्या सेवा की...तन-मन और धन से



The importance of envelope in politics
X
The importance of envelope in politics
  • चुनावी लिफाफों में नाम के अलावा और क्या है- ये बहुत मायने रखता है।

Dainik Bhaskar

Oct 16, 2018, 08:29 PM IST

जयपुर। चुनाव में लिफाफे का महत्व बढ़ जाता है। वैसे ही जैसे सावा-शादी में। लिफाफे में क्या है? किसको पता? दोनों में लिफाफा बंद ही लेते हैं। देने वाले का नाम दोनों ही लिफाफों पर मोटा-मोटा, साफ अक्षरों में लिखा जाता है। हालांकि यह नाम पढ़ने के बाद अक्सर लिफाफे फाड़ दिए जाते हैं या पटक दिए जाते हैं। अंदर की सामग्री ही चुनावी दल या शादी वाले परिवार के लिए मायने रखती है।

 

 

अभी लिफाफे सबसे ज्यादा चलेंगे

 

इन दिनों चुनावी माहौल है। सावे भी आ गए समझो। मतलब- लिफाफे अभी सबसे ज्यादा चलेंगे। राजनीतिक दलों में पर्यवेक्षक कार्यकर्ताओं के बीच जा रहे हैं। फीडबैक के साथ संभावित टिकट दावेदारों के नाम बंद लिफाफों में ले रहे हैं। स्थानीय क्रिया-प्रतिक्रियाओं को बिंदुवार अलग लिफाफों में रखा जा रहा है। ये लिफाफे पार्टी में कौन, कब खोलेगा...अभी तय नहीं।

 

हालांकि सभी जगह आलाकमान ही प्रमुख हैं। लिफाफे में क्या, उसे तो पता होना ही चाहिए। हां चुनावी लिफाफों में नाम के अलावा और क्या है- ये बहुत मायने रखता है। उस नाम ने पार्टी के लिए किया क्या है, उसका क्या योगदान है- तन, मन और विशेषकर धन से। 

--Advertisement--
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..