मतभेद / क्रिकेट में ‘कबड्डी’, आरसीए चुनाव के लिए दो अलग-अलग तारीखें तय



Two different dates fixed for RCA elections
X
Two different dates fixed for RCA elections

  • 5 साल बाद आरसीए से बैन हटा है, लेकिन फसाद पहले की तरह, चुनावी विकेट जमने से पहले उखड़ने लगी पिच
  • चुनाव अधिकारी ने कहा- 27 सितंबर को कराई जाएगी वोटिंग, आरसीए अध्यक्ष बोले- 4 अक्टूबर तक चुनाव

Dainik Bhaskar

Sep 13, 2019, 02:16 AM IST

जयपुर (संजीव गर्ग). राजस्थान की क्रिकेट में ‘कबड्डी’ शुरू हो गई है। आरसीए के चुनावों की तिथि को लेकर मतभेद सामने आए हैं। बीसीसीआई की ओर से नियुक्त चुनाव अधिकारी टी.एस. कृष्णामूर्ति ने नया चुनाव कार्यक्रम जारी किया है। इसके अनुसार 27 सितंबर को अारसीए के चुनाव होंगे।

 

दूसरी ओर, आरसीए अध्यक्ष सीपी जोशी ने कहा कि हमारा संविधान 9 सितंबर को रजिस्टर हुआ है। इस संविधान के अनुसार हम 21 दिन में इलेक्शन करा सकते हैं। इस बारे में हमने चुनाव अधिकारी को लिख दिया है। अगर चुनाव नहीं होता है और एकमत से प्रत्याशी चुन लिए जाते हैं तो हम बीसीसीआई की डेडलाइन के अनुसार 28 सितंबर तक आरसीए की नई कार्यकारिणी के नाम भेज देंगे।

 

अगर चुनाव हाेते हैं ताे हमारे ओनरेरी सेक्रेटरी महेंद्र नाहर ने वाेट डालने वालाें की लिस्ट जारी की है, वही मान्य हाेगी। हमने चुनाव अधिकारी कृष्णामूर्ति को लिख दिया है कि हम 4 अक्टूबर को चुनाव कराएंगे। साफ है कि अब चुनाव की तारीखें भी दो-दो सामने आ गई हैं। अब देखना यह है कि चुनाव अधिकारी के.एस. कृष्णामूर्ति की ओर से जारी तारीख में वे बदलाव करते हैं या नहीं।


बता दें कि आरसीए से 5 साल बाद इस साल 6 सितंबर को ही बैन हटा है। मई 2014 में जब ललित माेदी विदेश में रहते हुए ही आरसीए के अध्यक्ष बने थे ताे बीसीसीआई ने आरसीए पर बैन लगा दिया था। उन पर आईपीएल में गड़बड़ी व फेमा में उल्लंघन के अाराेप थे।
 

चुनावी पिच पर सबके अलग-अलग डिसीजन

 

 

चुनाव अधिकारी का कार्यक्रम मंजूर : नांदू
चुनाव अधिकारी कृष्णामूर्ति ने आरसीए चुनाव का जो नया प्रोग्राम जारी किया है हम उसे पूरी तरह स्वीकार करते हैं। जोशी गुट सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की अवहेलना कर रहा है। वे लोग सरकारी मशीनरी का दुरुपयोग कर रहे हैं। -आर.एस. नांदू, सचिव (सीपी जाेशी गुट की तरफ से सस्पैंडेड)

 

आरसीए संविधान के अनुसार हाेंगे चुनाव : जोशी
आरसीए का संविधान 9 सितंबर को रजिस्टर हुआ। इसके अनुसार हम 21 दिन में चुनाव करा सकते हैं। सर्वसम्मति से चुनाव हुए ताे 28 सितंबर तक कार्यकारिणी गठित हाे जाएगी। अगर चुनाव हाेते हैं ताे 4 अक्टूबर तक कराएंगे। -सीपी जाेशी, आरसीए अध्यक्ष


बीसीसीआई तय करे, क्या सही : रजिस्ट्रार
मेरे पास सीपी जोशी की ओर से चुनाव अधिकारी के लिए जाे नाम आए थे, मैंने उनका अनुमाेदन कर दिया। अब बीसीसीआई उन्हें मानती है या नहीं, इस पर मैं कुछ नहीं बोल सकता। -नीरज के. पवन

 

और मैच रैफरी... चुनाव अधिकारी किसे बनाएंगे कप्तान? 
24 अगस्त को घोषित चुनाव कार्यक्रम के समय वैभव राजसमंद से कोषाध्यक्ष नहीं थे। अब हैं। देखना यह है कि कृष्णामूर्ति उनके चयन को वैध मानते हैं या नहीं? 10 साल पहले एडहॉक कमेटी द्वारा जारी चुनाव कार्यक्रम के समय भी सीपी जोशी राजसमंद के कोषाध्यक्ष नहीं थे। लेकिन सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस कासलीवाल ने उनके चयन को सही पाया। वे आरसीए अध्यक्ष बने। चुनाव 27 सितंबर को होंगे या 4 अक्टूबर को यह भी कृष्णामूर्ति को तय करना है।

 

रजिस्ट्रार द्वारा नियुक्त सहायक चुनाव अधिकारी को नहीं माना

रजिस्ट्रार नीरज के. पवन ने बुधवार को केएस कृष्णामूर्ति काे चुनाव अधिकारी और महावीर प्रसाद शर्मा को सहायक चुनाव अधिकारी घोषित किया था, लेकिन कृष्णामूर्ति ने महावीर प्रसाद काे अपना सहायक नहीं माना है। और पहले से नियुक्त सहायक चुनाव अधिकारी के.जे. राव को ही इस पद पर बरकरार रखा। इस बारे में जब हमने नीरज के. पवन से बात की तो उन्होंने कहा, ‘मेरे पास सीपी जोशी की आरसीए वाले संयुक्त सचिव महेंद्र नाहर की ओर से दो नाम आए थे। इनमें एक पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टी.एस. कृष्णामूर्ति थे और दूसरा नाम महावीर प्रसाद शर्मा का था। मैंने दोनों नामों का अनुमोदन कर दिया। अब बीसीसीआई उन्हें मानती है या नहीं, इस पर मैं कुछ नहीं बोल सकता।’

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना