--Advertisement--

गौरव यात्रा / वसुंधरा ने कहा- हमारी सरकार काम ज्यादा करती है लेकिन बोलती कम है



चूरू और रतनगढ़ में सीएम ने जनसभा कर कांग्रेस पर हमला बोला

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 07:15 AM IST

चूरू.  मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने मंगलवार को चूरू और रतनगढ़ में जनसभाओं को संबोधित किया। रतनगढ़ की सभा के साथ बीकानेर संभाग में राजस्थान गौरव यात्रा का चरण पूरा हो गया। गौरव यात्रा को लेकर लोगों की टीका-टिप्पणी पर सीएम ने कहा कि जो लोग काम नहीं करते हैं, वे ही ऐसा कहते हैं।

 

भाजपा सरकार ने 5 साल में खूब काम करवाए हैं, इसलिए जनता को हिसाब देने के लिए यात्रा निकाली है भाजपा सरकार बोलती कम और काम ज्यादा करती है। संभाग की यात्रा के दाैरान पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर जनता की पीड़ा का पता चला तो सरकार ने प्रदेश में पहली बार इनकी कीमतों में कमी के लिए 4% वैट कम किया।

 

चूरू में पुलिस लाइन मैदान में आयोजित सभा में सीएम ने कहा कि काम करने के लिए इच्छाशक्ति होनी चाहिए, जो भाजपा में है। कांग्रेस में इच्छाशक्ति होती तो 50 साल में प्रदेश को बीमारू की श्रेणी से बाहर निकाल लाते। भाजपा ने जब सरकार संभाली, तब प्रदेश पर ढाई लाख करोड़ का कर्जा था।

 

पंचायतीराज मंत्री राजेंद्र राठौड़ ने कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलेट को नौसिखिया बताया और कहा कि नाम सचिन पायलट है, मगर विमान उड़ाना आता नहीं है। उन्होंने सीएम से चूरू के लिए एक आरओबी, सैनिक एकेडमी व बदहाल सड़कों के लिए बजट मांगा। 

 

1971 से पूर्व के शहीदों के परिवारों को देंगे नौकरी, 5% आरक्षण भी : सीएम राजे ने सभा में कारगिल शहीद दूधवाखारा सुमेरसिंह सहित अन्य शहीदों को नमन किया और कहा कि सरकार शहीदों के पीछे सरकार खड़ी है। सरकार ने 1971 से पहले के शहीद के परिवार में एक को नौकरी देने का निर्णय लिया। सरकार पूर्व सैनिकों के बच्चों को राज्य सेवा में 5% आरक्षण देगी।

 

रतनगढ़ में 25 साल बाद भाजपा में दिखे दो धड़े : गौरव यात्रा के दौरान सीएम का मुख्य कार्यक्रम नेहरू स्टेडियम में था, वहीं भाजपा के असंतुष्ट नेताओं ने उनका स्वागत चूरू बस स्टैंड के पास अलग से रखा। इन नेताओं ने सभा अायोजित कर देवस्थान मंत्री राजकुमार रिणवा के प्रति आक्रोश प्रकट किया। 25 साल पहले जब वरिष्ठ नेता हरिशंकर भाभड़ा यहां से चुनाव लड़ रहे थे, उस समय भाजपा दो धड़ों में दिखाई दी थी।

 

सीएम वसुंधरा राजे ने कहा- काम की इच्छाशक्ति होनी चाहिए, जो भाजपा में है और कांग्रेस में नहीं। वहीं, राजेंद्र राठौड़ ने कहा- नाम सचिन पायलट है, मगर विमान उड़ाना आता नहीं।

--Advertisement--