--Advertisement--

मुख्यमंत्री बोलीं- महेंद्रजीत मालवीय ने कराए चारागाह पर अतिक्रमण

बीजेपी का विधायक होता तो कभी लाइट नहीं कटती

Dainik Bhaskar

Aug 08, 2018, 07:10 AM IST
कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के भ कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के भ

बांसवाड़ा/ रोहनवाड़ी/ कुशलगढ़. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे बांसवाड़ा के बागीदौरा विधानसभा के कई इलाकों में सभाओं के दौरान कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री महेंद्रजीतसिंह मालवीय पर वार किए। उन्होंने मालवीय का नाम लेकर कहा कि उन्होंने केवल चारागाहों की जमीनों पर कब्जे करवाए। आए दिन इस क्षेत्र में लाइट कटने से अंधेरा रहता है।

भाजपा का विधायक होता तो इस इलाके में कभी बिजली गुल नहीं होती। सीएम की राजस्थान गौरव यात्रा मंगलवार को जिले के तीन विधानसभा क्षेत्रों से गुजरी। मंच पर पहुंचते ही खेमराज गरासिया ने आदिवासी आभूषण चांदी की हांसली और हाकली पहनाकर उनका स्वागत किया। उन्होंने कहा कि बागीदौरा विधायक और प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष महेन्द्रजीतसिंह मालवीया का नाम लिए बगैर मुख्यमंत्री ने उन पर और कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा बीजेपी का विधायक जीतेगा तो मालवीय की तरह वह 10-10 बीघा, 50-50 बीघा, 100-100 बीघा चारागाह भूमि और अन्य भूमियों पर कब्जा नहीं करेगा।

करौली और सवाई माधोपुर में यात्रा का गुर्जर करेंगे विरोध : गुर्जर समाज सीएम वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा का करौली और सवाई माधोपुर में विरोध करेगा। आरक्षण और उससे जुड़ी भर्तियों के मुद्दे पर विरोध किया जाएगा। गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के हिंडौन स्थित आवास पर हुई बैठक में निर्णय लिया।

अब गौरव यात्रा में नहीं होगा सरकारी खर्च: सार्वजनिक निर्माण विभाग ने मुख्यमंत्री वसुंधराराजे की राजस्थान गौरव यात्रा के दौरान होने वाली जनसभाओं में टेंट, साउंड, मंच सहित अन्य व्यवस्थाओं पर विभाग की राशि खर्च करने पर रोक लगा दी है। पीडब्ल्यूडी के चीफ इंजीनियर सीएल नवल एक अगस्त को जारी अपने ही आदेश को निरस्त कर दिया है। प्रतिपक्षी कांग्रेस ने राजस्थान गौरव यात्रा में सरकारी धन के दुरुपयोग के आरोप लगाए थे।

इधर... कांग्रेस का पांचवां सवाल- 2.29 लाख करोड़ कर्ज में डुबोकर कैसा राजस्थान गौरव : कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे से मंगलवार को पांचवां प्रश्न पूछा। कहा कि चार सालों में राज्य को 2.29 लाख करोड़ के कर्ज में डुबोकर सीएम राजस्थान का गौरव बढ़ाने का दावा कैसे कर सकती हैं ? पायलट ने कहा कि सीएम ने पिछले विधानसभा चुनावों के दौरान अनेकों बार कांग्रेस पर आरोप लगाए थे कि कांग्रेस सरकार ने प्रदेश पर 1.25 लाख करोड़ रुपये का कर्ज डालकर बीमारू राज्य बना दिया है, लेकिन सच्चाई उलट है। पायलट ने कहा कि वसुंधरा राजे ने बड़े-बड़े वादे कर विकास के सपने दिखाए। उनके वित्तीय कुप्रबंधन से चार सालों में प्रदेश पर कर्ज 2 लाख 29 हजार करोड़ रुपये हो गया है। निरंतर कर्ज बढ़ाकर किस आधार पर वे प्रदेश को विकसित करने के दावे कर रही हैं। प्रदेश का राजकोषीय घाटा भी नियंत्रण से बाहर हो गया है। कर्ज में डूबे होने के कारण निजी निवेश भी आकर्षित नहीं हो रहा है। प्रत्यक्ष विदेशी निवेश नहीं आने से रोजगार सृजन के अवसरों से जनता वंचित है।

X
कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के भकुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र के भ

Recommended

Click to listen..