जयपुर / करधनी में हादसा-हंगामा; दो बाइक की भिड़ंत में युवक की सड़क पर तड़पकर मौत



खून से लाल हुई सड़क खून से लाल हुई सड़क
सड़क पर भीड़ के हंगामे के बीच पुलिस अपनी जीप में देवेंद्र का शव डालकर ले गई। सड़क पर भीड़ के हंगामे के बीच पुलिस अपनी जीप में देवेंद्र का शव डालकर ले गई।
X
खून से लाल हुई सड़कखून से लाल हुई सड़क
सड़क पर भीड़ के हंगामे के बीच पुलिस अपनी जीप में देवेंद्र का शव डालकर ले गई।सड़क पर भीड़ के हंगामे के बीच पुलिस अपनी जीप में देवेंद्र का शव डालकर ले गई।

  • जान गंवाने वाले देवेंद्र का शव एंबुलेंस में नहीं जीप में डालकर ले गई पुलिस
  • 8 बजे पेट्रोल भराने की कहकर निकला था, रात 12:30 बजे मौत की खबर आई

Dainik Bhaskar

Oct 10, 2019, 02:30 AM IST

जयपुर. करधनी इलाके में बैनाड़ रोड पर मंगलवार रात 8:30 बजे मोहन हॉस्पिटल के पास दो बाइकों की भिड़ंत में एक युवक गंभीर घायल हो गया। मौके पर भीड़ इकट्ठी हो गई। लोगों ने पुलिस व एम्बुलेंस को सूचना दे दी। काफी देर तक पुलिस और एम्बुलेंस नहीं पहुंची तो भीड़ आक्रोशित हो गई और सड़क जाम कर दी। तब तक सड़क पर पड़े घायल देवेंद्र सिंह (18 वर्षीय) ने तड़प-तड़पकर दम तोड़ दिया। लोगों ने मौके पर पहुंची एम्बुलेंस को युवक को उठाने नहीं दिया।

 

जाम की सूचना मिली तो पुलिस के उच्चाधिकारी और आस-पास की थाना पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों से समझाइश शुरू की। इस दौरान आक्रोशित भीड़ ने पुलिस पर पथराव कर दिया। उसके बाद पुलिस ने भीड़ को खदेड़कर वहां से भगाया और मृतक युवक ग्रीन पार्क कॉलोनी बैनाड़ रोड निवासी देवेन्द्र के शव को एसएमएस हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां से बुधवार को पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द कर दिया। पुलिस ने रोड जाम और पथराव करने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करके वीडियो रिकॉर्डिंग के आधार पर जांच शुरू कर दी है। 

 

प्रत्यक्षदर्शियों का आरोप 
एक्सीडेंट होते ही एम्बुलेंस, करधनी थाना व पुलिस कंट्रोल रूम में फोन दिया था, लेकिन बहुत देर तक कोई मौके पर नहीं आया और घायल सड़क पर तड़पता रहा है। फोन पर बताया कि पुलिस जाब्ता सपना चौधरी के कार्यक्रम में लगा है।  

 

एडीशनल डीसीपी बजरंग सिंह ने बताया कि एक्सीडेंट की सूचना मिलते ही एम्बुलेंस व एक्सीडेंट थाने से एसएचओ खुद मौके पर पहुंच गए थे। लेकिन मौके पर एक इक्कट्ठे हुए कुछ उत्पाती लोगों ने घायल को उठाने नहीं दिया और पुलिस की गाड़ियों पर पथराव कर दिया। 

 

पेट्रोल भराने की कहकर निकला था

देवेंद्र सिंह के चाचा सुख सिंह ने बताया कि देवेन्द्र के पिता किसी काम से बाहर गए थे। देवेन्द्र घर से बाइक लेकर तेल भरवाने की कहकर गया था। काफी देर वापस नहीं लौटा तो घरवालों ने सोचा कहीं रुक गया होगा। रात करीब साढ़े बारह बजे करधनी थाने से एक पुलिसकर्मी आया और देवेन्द्र का एक्सीडेंट होने की बात कहकर थाने पर बुलाया। वहां पहुंचने पर पता चला कि उसकी मौत हो गई है। देवेन्द्र 10वीं कक्षा में पढ़ता था।

 


 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना