जैसलमेर

  • Hindi News
  • Rajasthan News
  • Jaisalmer News
  • 400 से अधिक माताओं का बहुमान बेटी बचाने, बेटी पढ़ाने का दिया संदेश
--Advertisement--

400 से अधिक माताओं का बहुमान बेटी बचाने, बेटी पढ़ाने का दिया संदेश

राजस्थान स्थापना दिवस समारोह 2018 के अवसर पर जिला प्रशासन, पर्यटन व जैसलमेर विकास समिति के संयुक्त तत्वावधान में...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 03:05 AM IST
400 से अधिक माताओं का बहुमान बेटी बचाने, बेटी पढ़ाने का दिया संदेश
राजस्थान स्थापना दिवस समारोह 2018 के अवसर पर जिला प्रशासन, पर्यटन व जैसलमेर विकास समिति के संयुक्त तत्वावधान में शुक्रवार की रात में सोनार दुर्ग के अखे प्रोल में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन हुआ। जिसमें जिले के ख्यातनाम लोक कलाकारों ने सांस्कृतिक स्वर लहरियां बिखेर कर दर्शकों का मनमोह लिया। इस दौरान बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ थीम पर आयोजित कार्यक्रम के तहत बेटियों की माताओं का बहुमान कर अनूठी पहल की गई।

विधायक छोटू सिंह भाटी, जिला प्रमुख अंजना मेघवाल, नगरपरिषद सभापति कविता खत्री, कलेक्टर कैलाशचंद मीना, जिला एवं सेशन न्यायाधीश मदनलाल भाटी, एडीएम केएल स्वामी, एएसपी जयनारायण, पूर्व महारानी राजेश्वरी राजलक्ष्मी, पूर्व युवराज चैतन्य राज सिंह तथा तारा भाटी के आतिथ्य में आयोजित हुए सांस्कृतिक संध्या और बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं का कार्यक्रम का आयोजन हुआ।

बेटियों की माताओं का हुआ बहुमान

राजस्थान दिवस समारोह के अवसर पर लगभग 400 से अधिक ऐसी माताएं जिनके केवल बेटियां ही है एवं उन्होंने अपनी बेटियों को बेटों के बराबर दर्जा देकर उनको शिक्षित व सुसंस्कारित किया तथा उनका बेहतरीन ढंग से संरक्षण किया, उन्हें बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का दुपट्टा पहना कर, बैज लगाकर, प्रमाण पत्र एवं श्रीफल भेंट कर बहुमान किया गया। वयोवृद्ध माता विजय लक्ष्मी, ज्योत्सना बोहरा, बबीता व्यास, शिल्पा व्यास के साथ ही कई माताओं को सम्मान दिया गया।

नारी शक्ति के सम्मान से समाज का उत्थान : जैसलमेर विधायक भाटी ने जिला प्रशासन के बेटियों की माताओं के इस सम्मान कार्यक्रम की प्रशंसा करते हुए कहा कि ऐसे कार्यक्रम जहां ऐसी माताएं जिनकी केवल पुत्रियां ही हैं। उनको गौरव महसूस होता है वहीं अन्य माताओं को यह सीख मिलती हैं कि वे भी बेटी को बेटों की तरह पढ़ाएंगी। जिला एवं सेशन न्यायाधीश भाटी ने भी इस कार्यक्रम की सराहना की और कहा कि हर मां के लिए यह गौरव की बात है कि आज उनके बेटी होने से उनका सम्मान मिल रहा है।

लोक कलाकारों ने दी शानदार प्रस्तुतियां : सांस्कृतिक संध्या के अवसर पर ख्यातनाम लोक कलाकार थाने खान जानरा एवं उनकी टीम ने केसरिया बालम आवोनी पधारो म्हारे देश स्वागत गीत से शुरुआत की। वहीं मूलसागर के अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त लोक कलाकार तगाराम भील ने अलगोजे पर राजस्थानी लोकसंगीत प्रस्तुति देकर मन मोह लिया। रामगढ़ के सुप्रसिद्ध लोक कलाकार उदाराम ने अग्नि तराजू नृत्य की प्रस्तुति दी। इसी तरह से रामगढ़ के ख्यातनाम लोक कलाकार लालू खान एंड पार्टी द्वारा बेहतरीन घूमर गीत प्रस्तुत किया गया। अक्षिता ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के दौरान बेटियों से ओतप्रोत गीत प्रस्तुत कर लोगों की वाहवाही लूटी।

X
400 से अधिक माताओं का बहुमान बेटी बचाने, बेटी पढ़ाने का दिया संदेश
Click to listen..