Hindi News »Rajasthan »Jaisalmaer» नन्हें बाल कलाकारों का मंच पर धमाल, होनहार पुरस्कृत

नन्हें बाल कलाकारों का मंच पर धमाल, होनहार पुरस्कृत

स्थानीय आदर्श विद्यामंदिर गांधी कालोनी में वार्षिकोत्सव 2074 का भव्य आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 01, 2018, 03:40 AM IST

नन्हें बाल कलाकारों का मंच पर धमाल, होनहार पुरस्कृत
स्थानीय आदर्श विद्यामंदिर गांधी कालोनी में वार्षिकोत्सव 2074 का भव्य आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि प्रभुदान देथा ’ए क्लास कांट्रेक्टर एवं समाजसेवी रहे। बालिका विद्यालय की बहिनों द्वारा नृत्यमयी सरस्वती वंदना प्रस्तुत की गई। इसके बाद स्थानीय प्रबंध समिति के सहव्यवस्थापक पदम सिंह राठौड़ ने अतिथियों का परिचय एवं स्वागत करवाया। माध्यमिक भाग के प्रधानाचार्य कमल किशोर द्वारा विद्यालय की शैक्षिक व सहशैक्षिक गतिविधियों का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया गया। माध्यमिक शिक्षा बोर्ड राजस्थान की कक्षा दशमी, अष्टमी में विद्यालय स्तर पर प्रथम स्थान पर रहे भैया व बहिन, विद्यालय स्तर पर गत सत्र प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहे भैया-बहिन, संस्कृति ज्ञान परीक्षा में प्रथम, शत प्रतिशत उपस्थित व उपेक्षित जनशिक्षा निधि के अंतर्गत सर्वाधिक सहयोग राशि एकत्र करने वाले भैया-बहिन व आचार्य-आचार्यों को अतिथियों द्वारा पुरस्कृत कर उनका उत्साहवर्धन किया गया।

प्राथमिक भाग प्रधानाचार्य दामोदर गर्ग ने बताया कि शिशु वाटिका के बच्चों द्वारा आओनी पधारो म्हारे देश गीत पर मनमोहक नृत्य मय स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। प्राथमिक भाग द्वारा संचालित रामदेव संस्कार केन्द्र द्वारा ‘‘ओ री चिरैया नन्ही-सी चिरिया ‘‘ भावपूर्ण गीतमय नृत्य प्रस्तुत किया गया। तत्पश्चात शिशु वाटिका के नन्हें मुन्हे भैया बहिनों नें ‘‘सुनो बच्चों उठाओ बस्ता‘‘भावपूर्ण नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों का मन मोह लिया। माध्यमिक भाग के भैयाओं द्वारा ‘‘अंधविश्वास का खंडन ‘‘एकांकी के माध्यम से समाज में व्याप्त अंधविश्वास के प्रति जागरूकता का संदेश दिया गया । बालिका विद्यालय की बहिनों द्वारा ‘‘ऐसा क्यूं माँ गीत पर आधारित भव्य नृत्य की प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम के अध्यक्ष राजेन्द्र व्यास ने शैक्षिक व संस्कार के क्षेत्र में आदर्श विद्या मंदिरों की भूमिका व उनके कार्यक्रमों की खूब प्रशंसा की। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि विद्यालय में योग शिक्षा को बढ़ावा दिया जाना चाहिए। इससे बालकों की स्मृति का विकास होता है। सेना व सत्ता की शक्ति व सूझबूझ का परिचय देती हुई एकांकी सर्जिकल स्ट्राइक का सजीव प्रस्तुतीकरण माध्यमिक के भैयाआंें द्वारा किया गया । प्राथमिक भाग के भैयाओं द्वारा पुत्तलिका कलात्मक नृत्य की सुंदर प्रस्तुति दी गई जिसने दर्शकों का मन मोह लिया । बालिका भाग द्वारा संचालित एकलव्य संस्कार केन्द्र की बहिनों द्वारा’डोडा मत पी रे डोकरिया’ गीत पर नृत्य मय प्रस्तुति दी गई । वनवासियों की कला को प्रकट करता हुआ वनवासी संगीतमय लोकनृत्य माध्यमिक भाग द्वारा प्रस्तुत किया गया ।

12वीं के विद्यार्थियों को विदाई दी

जैसलमेर स्थानीय इन्दिरा कालोनी स्थित स्वामी विवेकानंद बाल निकेतन उच्च माध्यमिक विद्यालय के कक्षा 12 वीं के समस्त विद्यार्थियों को समारोह पूर्वक विदाई दी गई। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्थान के निदेशक भगवानसिंह तथा प्रधानाचार्या पंकज भाटी के सान्निध्य में सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम का संचालन कक्षा ग्यारहवीं के छात्र-छात्राओं ने किया तथा संयोजक अमृतलाल बड़ल, सहसंयोजक सुरेश राजोतिया के निर्देशन में किया गया । सर्वप्रथम सरस्वती पूजन करने के पश्चात सभी छात्र-छात्राओं को तिलक लगाकर स्मृति चिह्न देकर विदाई की रस्म पूरी की गई । इस अवसर पर मिस फेयरवेल एवं मिस्टर फेयरवेल का चयन प्रश्नोत्तरी के माध्यम से किया गया। मिस फेयरवेल कुमारी ममता व मिस्टर फेयरवेल में जालम सिंह विजेता रहे। कार्यक्रम के अंत में प्रधानाचार्य ने परीक्षाओं के लिए विशिष्ट निर्देश देते हुए छात्रों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उपप्रधानाचार्य कमलकिशोर व्यास ने सभी का आभार व्यक्त किया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Jaisalmer News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: नन्हें बाल कलाकारों का मंच पर धमाल, होनहार पुरस्कृत
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Jaisalmaer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×