--Advertisement--

डंप यार्ड की चार दीवारी नहीं होने से कचरे में पड़े पॉलीथिन खाने से पशुओं की अकाल मौत

प्रधानमंत्री द्वारा देखे गए स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने में जहां आमजन पूरी भागीदारी निभा रहा है वहीं दूसरी...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 08:37 AM IST
Pokran - dump yard does not have four wickers due to the death of animal death due to eating polyethylene in the garbage
प्रधानमंत्री द्वारा देखे गए स्वच्छ भारत के सपने को साकार करने में जहां आमजन पूरी भागीदारी निभा रहा है वहीं दूसरी ओर नगरपालिका प्रशासन द्वारा शहर से एकत्रित हुए कचरे को खुले में फैंक रहे हैं। ऐसे में इस कचरे में कई पॉलीथिन भी शामिल होती है। जिस पर हर समय आवारा पशु मंडराते रहते हैं। वहीं कई पशुओं की इस पॉलीथिन के खाने से अकाल मौत हो रही है। लेकिन इन सभी से अनजान प्रशासन इस ओर न तो कोई ध्यान दे रहा है और न ही इन पशुओं को सुरक्षित करने के लिए कोई उपाय चला रहा है। जिसके कारण सैकडों की संख्या में आवारा पशु पॉलीथिन खाकर काल का ग्रास बन रहे हैं। गायों व आवारा पशुओं की मौत होते देख कई बार स्थानीय लोगों द्वारा नगरपालिका से इस डंप यार्ड की चार दीवारी बनाने की मांग की । लेकिन आमजन की मांग पर प्रशासन द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

डंप यार्ड की चार दीवारी नहीं बनाने का खामियाजा इन दिनों आवारा पशुओं को अपनी जान गंवा कर चुकाना पड़ रहा है। खाने की चाह में आवारा पशु इस डंप यार्ड में बिखरे कचरे पर मंडराते रहते हैं और पॉलीथिन में जमा कचरे को खाकर अपना जीवन बसर करती है। वहीं पॉलीथिन खाने के साथ ही गायों की अकाल की मौत हो जाती है। आवारा पशुओं के मौत का अंदेशा वहां बिखरे आवारा पशुओं के कंकाल से पता लगाया जा सकता है।

पोकरण. डंपयार्ड में मंडरा रहे हैं आवारा पशु।

अतिक्रमण का मुख्य सहायक बनी है गंदगी

शहर के कई सार्वजनिक स्थान जहां पर गंदगी फैली हुई है। वहां पर आमजन का आना जाना मुश्किल हो गया है। जिसके कारण इन स्थानों के आस-पास अतिक्रमण बढ़ गए हैं। शहर के मुख्य रूप से निजी बस स्टैंड के पास स्थित महादेव होटल के पास वाली गली, मदरसे के सामने वाली गली सहित आस-पास में कई स्थान ऐसे हैं जहां पर पूर्व में गंदगी होने के कारण आमजन का आना जाना नहीं था और अब वह अतिक्रमण का शिकार हो गए हैं।

आमजन की मांग पर मौन है प्रशासन

शहर के सार्वजनिक स्थानों पर गंदगी और कचरे को हटाने को लेकर आमजन द्वारा कई बार नगरपालिका प्रशासन को सूचित किया गया है। इसके साथ ही आमजन द्वारा कई बार प्रशासनिक अधिकारियों को मौका मुआयना कर इन स्थानों पर हुए अतिक्रमण को रोकने की मांग भी की है। लेकिन अभी तक इस संबंध में कोई कार्रवाई नहीं होने के कारण आमजन में रोष व्याप्त है।



सार्वजनिक स्थानों पर डाल देते हैं कचरा

नगरपालिका प्रशासन द्वारा लम्बे समय से कचरा डालने के लिए कोई स्थान तय नहीं किया जा रहा है। जिसके चलते जहां मन पड़ा वहां पर कचरा डाला जा रहा है। ऐसे में जैसलमेर रोड, रामदेवरा रोड़, फलसूंड रोड, जोधपुर रोड पर जगह जगह कचरा डाल दिया जाता है। जिसके चलते पोकरण में घुसने से पहले कचरे की ढेरियां दिखाई दे रही है जो कि पोकरण के सौंदर्य को दाग लगा रही है।

X
Pokran - dump yard does not have four wickers due to the death of animal death due to eating polyethylene in the garbage
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..