Hindi News »Rajasthan »Jaisalmaer» दैनिक भास्कर अभियान से जुड़े जल मित्रों का संकल्प

दैनिक भास्कर अभियान से जुड़े जल मित्रों का संकल्प

यदि कल देखना है तो हमें आज से ही पानी बचाना शुरू करना होगा…. कुछ इस तरह के संकल्प से ही हमारी आने वाली पीढ़ी को पानी...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 18, 2018, 04:35 AM IST

  • दैनिक भास्कर अभियान से जुड़े जल मित्रों का संकल्प
    +2और स्लाइड देखें
    यदि कल देखना है तो हमें आज से ही पानी बचाना शुरू करना होगा…. कुछ इस तरह के संकल्प से ही हमारी आने वाली पीढ़ी को पानी मिल सकेगा। अन्यथा वह दिन दूर नहीं जब गरीब लोग बूंद बूंद पानी को तरसेंगे और बाजार में महंगे दामों पर पानी मिलेगा। दैनिक भास्कर अभियान से जुड़े जल मित्रों ने आमजन को जागरूक करने के लिए कुछ इस तरह के फोटोग्राफ भेजे हैं जिसे देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि हम पानी बचाने के लिए कितने सजग है। न चाहते हुए भी शहरवासी रोजाना लाखों लीटर पानी बर्बाद कर देते हैं। थोड़ी सी जागरूकता से ही हम हर रोज बेकार बह रहे 30 फीसदी से अधिक पानी को बचा सकते हैं। इतना ही नहीं सरकारी जिम्मेदार भी लीकेज की तरफ ध्यान नहीं देकर लाखों लीटर पानी की बर्बादी रोजाना कर रहे हैं। सरकार द्वारा भी विभिन्न प्रकार के जागरूकता अभियान चलाकर पानी की महत्ता आमजन को समझाइश की जा रही है। लेकिन उसके उपरांत भी पानी की सुलभ पहुंच वाले लोग इसकी महता को नहीं समझ रहे हैं।

    यूं व्यर्थ बह जाता है पानी

    सीधे ही पाइप लगाकर अपनी कार व बाइक देने से 200 लीटर से अधिक पानी व्यर्थ बह जाता है।

    जागरूकता से बचा सकते हैं 30 फीसदी पानी

    सार्वजनिक नलों की समय पर मेंटीनेंस होनी चाहिए ताकि वहां दिन भर नल चालू न रहें।

    लीकेज से व्यर्थ बहता पानी।

    नल बंद होने के बावजूद भी बहता व्यर्थ पानी।

    सार्वजनिक नल का उपयोग करने वाले कभी भी नल को बंद नहीं करते जिससे दिन भर पानी बहता रहता है।

    प्रशासन भी जिम्मेदार

    आम लोगों तक पानी की सहज पूर्ति नहीं होने के पीछे सबसे बड़ा कारण प्रशासन की उदासीनता ही है। जलापूर्ति के जिम्मेदार इस ओर विशेष ध्यान नहीं दे रहे हैं। जिससे जैसलमेर में पानी का संकट गहरा गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में लोग पानी को तरस रहे हैं और पशुधन तो काल का ग्रास बन रहे हैं लेकिन जिम्मेदारों को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है।

    पानी का नहीं करे दुरुपयोग |गर्मी के मौसम में भी आमजन व प्रशासन पानी के महत्व को नहीं समझते हुए इसका लगातार दुरुपयोग कर व होने से नहीं रोक रहे है। जिससे जिले के ही कुछ सूखाग्रस्त लोग लगातार पानी के अभाव में दिन गुजार रहे हैं। उनके लिए ना तो प्रशासन पानी का दुरुपयोग होने से रोक रहा है और ना ही आमजन को इस बात से कोई फर्क पड़ रहा है।

    गर्मी मौसम में आदमी के साथ पशु पक्षी भी पानी के लिए सामना कर रहा है। उसमें भास्कर सभी से अपील करता है कि प्रशासन एक तरफ पानी के दुरुपयोग पर लगाम लगाए वहीं आमजन इसे व्यर्थ बहने से भी बचाए। एक छोटी सी पहल किसी एक ढ़ाणी, गांव, कस्बे में रह रहे उन लोगों की मदद कर सकती है जिन्हें पानी नहीं मिल पा रहा है। हम सभी के प्रयास से जल संकट की समस्या से बहुत हद तक निजात मिल सकेगी।

    भास्कर अपील

    पुरानी पाइप लाइनों में सैकड़ों की संख्या में छोटे मोटे लीकेज हैं जहां से हजारों लीटर पानी रोजाना व्यर्थ बहता है।

    शहर के अधिकांश घरों में आरओ लगे हैं दिन में 300 लीटर से अधिक पानी आरओ से व्यर्थ निकलता है, जिसका उपयोग नहीं होता।

    सजग होकर बचाया जा सकता है पानी

    अपने वाहनों को सीधे ही पाइप लगाकर नहीं बाल्टी में पानी भरकर वॉश करें, पानी की बचत होगी।

    घर के बाहर लगे नल पर टी लगाएं।

    सार्वजनिक नल खुला हो तो उसे बंद कर आसपास के लोगों को समझाइश करें।

    जहां कहीं भी लीकेज दिखे तो जिम्मेदारों को फोन कर सूचित करें।

    आरओ से निकलने वाले वेस्ट पानी का बर्तन, कपड़े व घर की धुलाई में उपयोग करें।

    जल मित्रों ने उठाया बीड़ा, लोगों को करेंगे जागरूक

    दैनिक भास्कर के अभियान से जुड़े जल मित्रों ने जैसलमेर में जल संरक्षण का बीड़ा उठा लिया है। इन्होंने संकल्प लेकर आमजन को सजग करने की ठान ली है। शुरूआत में ये जल मित्र व्यर्थ बहते पानी को बचाने के लिए प्रयास में जुट गए हैं। अब धीरे धीरे ये शहर के वार्डों में जागरूकता अभियान चलाएंगे। जैसलमेर में दैनिक भास्कर से जुड़े जल मित्र मयूर भाटिया, दीनाराम, राजकुमार भाटिया, नटवर जोशी व ब्रजरतन छंगाणी ने जल संरक्षण की मुहिम छेड़ दी है।

    हर घर के बाहर नल लगे हैं उस पर टोटी नहीं है। 5 से 10 मिनट में हजारों लीटर पानी व्यर्थ बहता है।

  • दैनिक भास्कर अभियान से जुड़े जल मित्रों का संकल्प
    +2और स्लाइड देखें
  • दैनिक भास्कर अभियान से जुड़े जल मित्रों का संकल्प
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Jaisalmaer

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×