• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jaisalmaer
  • Jaisalmer News rajasthan news children should get used to drinking water at short intervals so that they stay healthy and move forward mehta

थोड़े अंतराल पर पानी पीने की आदत डालें बच्चे ताकि तंदुरुस्त रहें व आगे बढ़ें: मेहता

Jaisalmaer News - स्कूली बच्चों की सेहत को संवारने तथा कुछ कुछ घंटे के अंतराल में पानी पीने की आदत विकसित करने के लिए जैसलमेर जिला...

Dec 06, 2019, 09:02 AM IST
Jaisalmer News - rajasthan news children should get used to drinking water at short intervals so that they stay healthy and move forward mehta
स्कूली बच्चों की सेहत को संवारने तथा कुछ कुछ घंटे के अंतराल में पानी पीने की आदत विकसित करने के लिए जैसलमेर जिला प्रशासन की ओर से अभिनव पहल के रूप में कलेक्टर नमित मेहता ने छत्रैल गांव स्थित राउमावि में विद्यार्थियों को पानी की बोतलें वितरित कर जल सुधा नाम से नवाचारी पायलट प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया। राजस्थान भर में बच्चों की सेहत के लिए समर्पित यह अपनी तरह का पहला प्रयोग है।

कलेक्टर ने स्कूल के विद्यार्थियों को भामाशाहों की ओर से उपलब्ध कराई गई पानी की बोतलें वितरित की और कहा कि स्कूल में कुछ कुछ घंटे के अंतराल में दो दो मिनट अवधि का वाटर ब्रेक होगा, ताकि बच्चे इन बोतलों से शुद्ध पेयजल पी सके। विद्यालय में कक्षा पहली से 8वीं तक पढ़ने वाले सभी छात्र छात्राओं को मिलाकर कुल 374 बोतलों का वितरण किया गया। कलेक्टर ने बोतलों का वितरण करते हुए बच्चों से चर्चा की और बोतल रोजाना स्कूल में लाने तथा वाटर ब्रेक के दौरान पानी पीने के लिए कहा। विद्यार्थियों ने हर्ष नाद कर स्वीकारोक्ति की और कहा कि वे इस बात का पूरा पूरा ध्यान रखेंगे।

लाणेला और जेठवाई में भी हुआ वाटर बोतल वितरण, अन्य स्कूलों को भी जोड़ा जाएगा

जैसलमेर. छत्रैल गांव स्थित राउमावि में विद्यार्थियों को पानी की बोतलें वितरित करते कलेक्टर मेहता।

कलेक्टर ने बताया कि वाटर बोटल्स वितरण और बच्चों में पेयजल पान की आदत विकसित करने के लिए चलाए जाने वाले इस नवाचारी पायलट प्रोजेक्ट के परिणामों को देखकर आने वाले समय में अन्य सरकारी एवं निजी स्कूलों में भी यह प्रयोग किया जाएगा। आरंभ में मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सत्येन्द्र व्यास ने कलेक्टर की इस पहल का स्वागत करते हुए कहा कि स्कूली बच्चों के लिए अभिनव प्रयास के लिए शिक्षा विभाग हमेशा कृतज्ञ रहेगा। उन्होंने जल सुधा नवाचार के उद्देश्यों एवं आवश्यकता पर प्रकाश डाला और विद्यार्थियों को स्वस्थ रहने के लिए शरीर की जरूरत के अनुसार पानी पीने का आह्वान किया। व्यास ने कहा कि कलेक्टर की पहल एवं प्रयासों से जैसलमेर जिले में शुरू हुआ जल सुधा का यह अभिनव एवं महत्वपूर्ण प्रयोग स्कूली बच्चों के जीवन के लिए काफी लाभकारी सिद्ध होगा। इस पहल पर ग्रामीणों ने भी जिला प्रशासन का आभार व्यक्त किया। जल सुधा प्रयोग के अंतर्गत गुरुवार को छत्रैल के साथ ही जैसलमेर जिले के 2 अन्य विद्यालयों मेंं कक्षा 1 से 8 तक पढ़ने वाले बच्चों को पानी की बोतलों का वितरण किया गया। इनमें एडीएम ओ.पी. विश्नोई ने लाणेला के राबाउप्रावि की सभी 91 बालिकाओं को पानी की बोतलों का वितरण किया। 256 विद्यार्थियों को पानी की बोतलों का वितरण किया।

X
Jaisalmer News - rajasthan news children should get used to drinking water at short intervals so that they stay healthy and move forward mehta
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना