पांच मुमुक्षु भाई-बहिनों ने एक साथ सांसारिक जीवन त्यागकर धारण किया वैराग्य

Jaisalmaer News - मंगलवार का दिन औद्योगिक क्षेत्र में धर्ममय रहा, पांच मुमुक्षु भाई-बहिनों ने दीक्षा ग्रहण कर वैराग्य जीवन में...

Feb 12, 2020, 10:06 AM IST
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life

मंगलवार का दिन औद्योगिक क्षेत्र में धर्ममय रहा, पांच मुमुक्षु भाई-बहिनों ने दीक्षा ग्रहण कर वैराग्य जीवन में प्रवेश किया। वर्धमान आदर्श विद्या मंदिर में मुमुक्षुओं को दीक्षा ग्रहण करवाई तो पूरा पांडाल उनके अभिवादन को लेकर गूंज उठा। विभिन्न राज्यों में रहने व क्षेत्र में काम करने वाले मुमुक्षुओं के सांसारिक जीवन को त्याग व नए जीवन यानि वैराग्य अपनाने पर श्रद्धालुओं ने पुष्प वर्षा से स्वागत किया। आचार्य रामलाल महाराज के मुखारविंद से जैन भागवती दीक्षा अंगीकार कर 5 मुमुक्षु भाई-बहिन साधु-साध्वी बने। श्री वर्धमान जैन स्थानकवासी संस्थान की ओर से आयोजित जैन भागवती दीक्षा समारोह में साधुमार्गी परंपरा के जैन आचार्य रामलाल महाराज ने संयम जीवन की महता दर्शाते हुए कहा कि द्रव्य संयम के साथ ही भाव संयम मोक्ष के लिए अनिवार्य है। जैन संयम साधना में पांच महाव्रत तीन समिति गुप्ती का इस विशेष आराधन किया जाता है। केश मुंडन के साथ कषाय मुंडन भी किया जाता है। आचार्य श्री के द्वारा जैन भागवती दीक्षा प्रदान कर मुमुक्षु मयंक सेठिया का नामकरण मयंक मुनि, मुमुक्षु यश लूनिया का नामकरण यतनेश मुनि, मुमुक्षु खुशबू भूरा का नामकरण महासती खामेमी श्री, मुमुक्षु रिया गुलेचा का नामकरण महासती रमामि श्री एवं मुमुक्षु ज्योति सेठिया का नामकरण महासती जयामी श्री घोषित किया गया। वर्धमान स्थानकवासी संस्थान के मंत्री ओमप्रकाश बांठिया ने संघ की ओर से स्वागत भाषण के साथ आचार्य श्री के सानिध्य में बालोतरा में दीक्षा के साथ स्थानकवासी परंपरा में 100 से अधिक जैन भागवती दीक्षा होने की जानकारी दी। कमलेश चौपड़ा ने अभिनंदन की गीतिका प्रस्तुत की। संस्थान अध्यक्ष भैरूलाल सालेचा के नेतृत्व में आचार्य श्री से नव दीक्षित साधु एवं साध्वी की बड़ी दीक्षा बालोतरा में करने का अनुरोध किया गया। साधर्मी वात्सल्य का लाभ लूनचंद पारसमल गौतमचंद गजेंद्र कुमार नरेश कुमार विमल कुमार सालेचा परिवार की ओर से लिया गया। समर्पित श्रावक महेश नाहटा ने व्यसनमुक्ति की प्रेरणा की एवं 5 भाई बहिनों ने आजीवन शीलवृत्त के प्रत्याखन लिए।

मुमुक्षु धारण करने वाले पांचों भाई बहिनों का जीवन परिचय, सभी उच्च शिक्षित, शिक्षा के साथ धर्म के प्रति भी लंबे समय से रुझान रहा


नाम : मुमुक्षु मयंक सेठिया

जन्म : 6 मार्च 1994 को

पिता दीपक सेठिया, माता बसंतीदेवी सेठियानिवासी गंगाशहर बीकानेर। शिक्षा बी.टेक। । दो साल से बैरागी जीवन जी रहे। दशवैकालिक सूत्र, उत्तराध्ययन सूत्र, संस्कृत प्रथम, द्वितीय, दीक्षा, कौमुदी, कर्मग्रंथ, वैकल्पिक संस्कृत भूषण व कोविंद, कोठी विशेष तत्व ज्ञान के थोकड़े का अध्ययन।

धर्म.समाज

नाम : मुमुक्षु खुशबू भूरा

जन्म : मार्च 1993

पिता आनंदमल भूरा व माता चंदादेवी। बी.कॉम के बाद 3डी डिजाइनिंग का कोर्स। निवासी सूरत। आगम, पुच्छिसूणं, दशवैकालिक सूत्र, उत्तराध्ययन सूत्र, भक्तामर स्त्रोत, तत्वार्थ सूत्र, 25 बोल, 67 बोल लघु दंडक गति, आगति, 5 समिति 3 गुप्ती भिक्षा के 110 बोल, बंध, श्री साधुमार्गी जैन संघ उदिरणा सत्ता, जैन सिद्धांत विभाकर की अध्ययन।

नाम : मुमुक्षु ज्योति सेठिया

जन्म : 30 अक्टूबर 1995

पिता दीपक सेठिया, माता बसंतीदेवी सेठिया। निवासी गंगाशहर बीकानेर। शिक्षा एम.कॉम। पिछले 18 महिनों से वैराग्य जीवन। दशवैकालिक सूत्र, उत्तराध्ययन सूत्र, संस्कृत प्रथमा दीक्षा, थोकड़े कर्म स्वरूप, कर्म विपाक, बंध स्वािमत्व तत्व ज्ञान के थोकड़े, जैन सिद्धांत भूषण, कोविद, तत्व ज्ञान के थोकड़े का अध्ययन।

नाम : मुमुक्षु रिया गोलेच्छा

जन्म : नवंबर 1993

पिता विजय गोलेच्छा व माता धनेश्वरी गोलेच्छा। निवासी नुवापाड़ा उड़ीसा हाल मारवाड़। शिक्षा बीए। तीन साल से वैराग्य जीवन। शिक्षा में आगम, दशवैकालिक सूत्र उत्तराध्ययन सूत्र, 25 बोल के थोकड़े, लघु दंडक, गति आगति, जीवघड़ा, 98 बोल, कर्म ग्रंथ, जैन सिद्धांत कोविद, कर्म ग्रंथ आदि का अध्ययन। 500 किमी पदयात्रा।

नाम : मुमुक्षु यश लूणिया

जन्म : 6 सितंबर 2000

पिता गौतमचंद लूणिया व माता ममतादेवी लूणिया। निवासी नोखा मंडी बीकानेर। नीट पीएमटी की। दशवैकालिक सूत्र, उत्तराध्ययन सूत्र, 25 बाले, 33 बाले, 67 बोल के थोकड़े, पुिच्छसुणं, गति, आगति, लघु दंडक, गमक, 5 समिति, 3 गुप्ती, भक्तामर स्त्रोत, भगवती सूत्र, जैन सिद्धांत भूषण आदि का अध्ययन।

Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
X
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life
Nokh News - rajasthan news five mumukshu brothers and sisters gave up renunciation and renounced worldly life

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना