पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

युवाओं ने गड़ीसर सराेवर पर किया श्रमदान

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नेहरू युवा केंद्र जैसलमेर द्वारा शनिवार को गड़ीसर सरोवर पर महात्मा गांधी स्वच्छता एवं श्रमदान अभियान के तहत युवाओं द्वारा श्रमदान किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ करते हुए नेहरू युवा केंद्र के जिला युवा समंवयक फतेहलाल भील ने युवाओं को प्रति सप्ताह एक घंटे श्रमदान करने की शपथ दिलवाई। उन्होंने बताया कि हमारे स्वतंत्रता सेनानियों ने जब देश की आजादी की लड़ाई लड़ी तो राजनैतिक स्वतंत्रता ही उनका मकसद नहीं था। उनका मुख्य उद्देश्य आजादी के बाद देशवासियों की सम्पूर्ण समृद्धि था। देश में वर्तमान में अस्वच्छता की वजह से हमें बहुत बीमारियों का सामना करना पड़ रहा है। हमें निजी स्वच्छता के साथ ही अपने आसपास के पर्यावरण की स्वच्छता रखनी चाहिए ताकि हम सब मिलकर स्वच्छ भारत का निर्माण कर सकें। उन्होंने कहा कि हमारे पूर्वजों से विरासत में मिली ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहरों को स्वच्छ रख संरक्षित करना आम नागरिक का कर्तव्य होना चाहिए। युवाओं ने श्रमदान करते हुए सरोवर के किनारों से प्लास्टिक कचरा, कपड़े, पूजन सामग्री व बोतलें इत्यादि को हटाते हुए घाट पर झाडू लगाया। करीब ढाई घंटे तक युवाओं ने श्रमदान करते हुए 2 टैक्सी भरकर अजैविक कचरा साफ किया। इस अभियान में भागीरथ नवयुवक मंडल रानीसर, एकलव्य नवयुवक मंडल, एनवाईसी इकबाल, जोरवारसिंह, दिलीपसिंह, सुरजाराम, पवन, बनवारी, कमल, विनोद व स्टाफ खेताराम सहित सभी युवाओं का योगदान रहा।

जैसलमेर. गडीसर सराेवर पर श्रमदान करते युवा।
खबरें और भी हैं...