• Home
  • Rajasthan News
  • Jalore News
  • बाल विवाह रोकथाम को लेकर निकाली रैली, किया जागरूक
--Advertisement--

बाल विवाह रोकथाम को लेकर निकाली रैली, किया जागरूक

राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से रविवार से बाल विवाह...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 04:50 AM IST
राजस्थान राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से रविवार से बाल विवाह प्रतिषेध अभियान का शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वावधान में बाल विवाह रोकथाम के प्रति लोगों में जागरूकता के लिए रैली का आयोजन किया गया। रैली को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं जिला जज कमलचंद नाहर व पूर्णकालिक सचिव पवन कुमार काला ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह रैली कोर्ट परिसर से रवाना होकर शहर के विभिन्न मार्गों से निकली। रैली में शामिल पीएलवी हाथों में बाल विवाह के प्रति जागरूकता का संदेश देने वाली तख्तियां लेकर चल रहे थे। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पूर्णकालिक सचिव पवन कुमार काला ने बताया कि बाल विवाह रोकथाम को लेकर रालसा की ओर से एक्शन प्लान जारी किया गया है। बाल विवाह रोकथाम को लेकर आमजन को जागरूक करे। रैली में भील समाज युवा संगठन के जिलाध्यक्ष मनोहरलाल राणा के अलावा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्मिक व पीएलवी मौजूद रहे।

हो सकती है दो साल की सजा : बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम में बाल विवाह में सहयोग करने वाले पंडित, मौलवी, पादरी, टेंट वाले, हलवाई, बैंड बाजों वाले तथा बाल विवाह में सहयोग करने वाले अन्य सभी लोग संज्ञेय एवं गैर जमानतीय अपराध के उत्तरदायी है। बाल विवाह करने पर दो वर्ष तक का कारावास तथा एक लाख रुपए तक का जुर्माना हो सकता है। बाल विवाह एक संज्ञेय अपराध है पुलिस बगैर वारंट गिरफ्तार कर सकती है।

बाल विवाह रोकथाम के प्रति लोगों में जागरूकता के लिए रैली का आयोजन किया गया

जालोर. बाल विवाह रैली को झंडी दिखाकर रवाना करते हुए।