• Hindi News
  • Rajasthan
  • Jalore
  • भैंसवाड़ा में १३२ केवी का नया जीएसएस बनकर तैयार, शुरू होते ही ढाई हजार किसानों को मिल सकेगी पर्याप्त बिजली
--Advertisement--

भैंसवाड़ा में १३२ केवी का नया जीएसएस बनकर तैयार, शुरू होते ही ढाई हजार किसानों को मिल सकेगी पर्याप्त बिजली

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 02:55 AM IST

Jalore News - भास्कर न्यूज | आहोर/गुड़ा बालोतान निकटवर्ती उम्मेदपुर मालपुरा गांव में स्थित विद्युत प्रसारण विभाग के 132 केवी...

भैंसवाड़ा में १३२ केवी का नया जीएसएस बनकर तैयार, शुरू होते ही ढाई हजार किसानों को मिल सकेगी पर्याप्त बिजली
भास्कर न्यूज | आहोर/गुड़ा बालोतान

निकटवर्ती उम्मेदपुर मालपुरा गांव में स्थित विद्युत प्रसारण विभाग के 132 केवी स्टेशन से निकलने वाले आहोर फीडर के 33 केवी जीएसएस से जुड़े ग्रामीणों व किसानों को फीडर में बार-बार आने वाले फाल्ट एवं कम वॉल्टेज की शिकायत से जल्द राहत मिल सकेगी। हालांकि, भैंसवाड़ा गांव में पीपीपी मोड पर तैयार किए गए नए 1.32 केवी स्टेशन से आहोर फीडरों को फिलवक्त जोड़ा नहीं गया है, लेकिन इन फीडर को जोड़ते ही करीब ढाई हजार किसानों को इसका सीधा फायदा मिलेगा और सिंचाई में पर्याप्त बिजली मिलेगी।

सीधे जुड़ेंगे कई फीडर : इसके अलावा उम्मेदपुर से निकलने वाले आहोर फीडर के अजीतपुरा, शंखवाली, दयालपुरा, रामा, नोसरा, घाणा व भाद्राजून ३३ केवी जीएसएस को भैंसवाड़ा 132 केवी के नए स्टेशन से जोड़ने के लिए विभाग के निजी ठेकेदार को विद्युत पोल, विद्युत लाइनें ये सारा सामान उपलब्ध करवा दिया है। वही निगम के निजी ठेकेदार की ओर से कई जगहों पर पोल खड़े करने का काम शुरू कर दिया गया है। मई माह के अंत तक अजीतपुरा 33 केवी जीएसएस तक नई विद्युत लाइन बिछाने के बाद उसे जोड़ने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी और अजीतपुरा ३३ केवी जीएसएस के जुड़ने के बाद आगे के रामा, घाणा, नोसरा व भाद्राजून जीएसएस भी सीधे तौर पर जुड़ जाएंगे।

पहले एक फीडर में फॉल्ट से नौ फीडर हो जाते थे ठप, कई गांवों की बिजली हो जाती गुल

एक जीएसएस पर फाल्ट आते ही नौ जीएसएस एक साथ हो जाते हैं बंद

उम्मेदपुर १३२ केवी स्टेशन से निकलने वाले आहोर फीडर पर फिलहाल गुड़ा बालोतान, चांदराई, दयालपुरा, शंखवाली, अजीतपुरा, घाणा, रामा, नोसरा व भाद्राजून ३३ केवी जीएसएस जुड़े हुए हैं। इन नौ जीएसएस में से किसी एक पर भी फाल्ट आता है तो ये आहोर फीडर के नौ जीएसएस से जुड़े संबंधित गांवों की बिजली गुल हो जाती है। सोमवार की रात को तेज हवाएं चलने पर रात के समय करीब दो तीन घंटे तक बिजली गुल रही। जिसे लेकर १३२ केवी पर संपर्क किया तो जबाव मिला कि आहोर फीडर में फाल्ट आ रहा है। जिससे नौ जीएसएस से जुड़े दर्जनों गांवों में दो से तीन घंटे तक विद्युत आपूॢत अनियमित चली। अब नए जीएसएस से जुड़ने से इस समस्या से छुटकारा मिल सकेगा।

गांवों में कम वॉल्टेज की शिकायत भी दूर होगी, और उम्मेदपुर 132 केवी का लोड भी आधा हो जाएगा : उम्मेदपुर मालपुरा गांव में स्थित 132 केवी से तखतगढ़, हरजी, पावटा, उम्मेदपुर, कवराड़ा समेत आहोर फीडर से नौ जीएसएस जुड़े हैं। वर्तमान में उम्मेदपुर 132 का लॉड 10 मेगावाट के आसपास है। अगर इसमें से आहोर फीडर के गुड़ा बालोतान व चांदराई जीएसएस को छोड़कर नौ में से शेष सात जीएसएस को भैंसवाड़ा के 132 केवी नए स्टेशन से जोड़ने पर उम्मेदपुर 132 का लोड 10 मेगावाट से घटकर आधा यानि 5 मेगावाट रह जाएगा। उम्मेदपुर 132 केवी का लोड कम होने का सीधा फायदा इस क्षेत्र के किसानों व ग्रामीणों को मिलेगा। उम्मेदपुर से निकलने वाला आहोर फीडर करीबन 80 किमी तक लंबा होने से दूरस्थ के गांवों में अक्सर कम वॉल्टेज की शिकायते आती है। जिससे गांवों में कम वॉल्टेज की शिकायतें दूर होगी और नियमित रूप से बिना फाल्ट आए विद्युत सेवा चलती रहेगी।

आहोर. भैंसवाड़ा के पास तैयार हुआ नया जीएसएस। फोटो| भास्कर

आहोर में १३२ केवी स्टेशन बनाने के लिए पांच साल से की जा रही थी कवायद, अब मिलेगी राहत

कस्बे समेत आसपास के गांवों में २४ घंटे विद्युत आपूॢत सेवा को सुदृढ़ करने के लिए आहोर में १३२ केवी स्टेशन का निर्माण करवाने के लिए पिछले पांच छह साल से प्रयास किए जा रहे थे। कई बार विद्युत विभाग के आला अधिकारी आहोर आते जगह का चयन करने का प्रयास भी करते लेकिन उन्हें मन मुताबिक जगह नहीं मिलने से ये मामला पांच साल तक कागजों में ही चलता रहा। उसके बाद बीते वर्ष में भैंसवाड़ा सरपंच से बात की गई तो उन्होंने १३२ केवी स्टेशन के लिए ग्राम पंचायत क्षेत्र में जमीन देने की हामी भरी इसे बनाने की प्रक्रिया शुरू हुई। इस स्टेशन को बनाने के लिए राज्य सरकार ने इसे पीपीपी मोड पर कंपनी को दिया। कंपनी ने पांच माह में ही कार्य पूरा कर दिया।

सात जीएसएस को जोड़ेंगे नए 132केवी से

इसमें आहोर फीडर से जुड़े गुड़ा बालोतान, चांदराई जीएसएस से जुड़े गांवों की लाइनों का रख-रखाव करने से फाल्ट की शिकायतें आनी बंद हो गई, लेकिन अजीतपुरा जीएसएस से आगे के जीएसएस में रख-रखाव व झाडिय़ों की कटाई नहीं करवाने से दिन व रात के समय फाल्ट आते रहते हैं। इस समस्या से निजात तब मिल सकती है जब उम्मेदपुर १३२ केवी से निकलने वाले आहोर फीडर के सात जीएसएस को उम्मेदपुर से हटाकर भैंसवाड़ा १३२ के नए स्टेशन से जल्द से जल्द से जोड़ा जाए।

इनका कहना है


X
भैंसवाड़ा में १३२ केवी का नया जीएसएस बनकर तैयार, शुरू होते ही ढाई हजार किसानों को मिल सकेगी पर्याप्त बिजली
Astrology

Recommended

Click to listen..