पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Sanchore News Rajasthan News In Sanchore Miscreants Keep Pistol On Gujarat Police Firing On Youth In Case Of Transactions

सांचौर में बदमाशों ने गुजरात पुलिस पर पिस्टल तानी, लेनदेन के मामले में युवक पर फायरिंग

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सांचौर में दो वारदातों से शहर में बदमाशों का खौफ इस तरह दिखा कि क्षेत्र की पुलिस से उनको किसी भी प्रकार का भय नहीं हैं। एक मामला तो गुजरात से आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर सांचौर आई पुलिस पर बदमाशों ने पिस्टल तानकर आरोपियों को छुड़ाने की कोशिश की। वहीं दूसरी ओर शहर के गौड़ीजी मंदिर के पीछे शनिवार सवेरे करीब दस बजे लेन-देन के मामले को लेकर स्कॉर्पियों में सवार बदमाशों द्वारा एक युवक पर दिनदहाड़े फायरिंग कर दी। जिसको लेकर अफरा-तफरी मच गई। घटना की सूचना पर सांचौर पुलिस मौका स्थल पर पहुंंची। इस दौरान आरोपी मौका स्थल से फरार हो गये। वहीं घटना स्थल से कारतूस का एक खोल पुलिस को मिला है। इस दौरान आरोपियों की तलाश के लिये पुलिस ने नाकेबंदी करवा दी। इस दौरान चितलवाना व सांचौर पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर केरिया गांव से पैदल जाते समंदरसिंह पुत्र मदनसिंह राव निवासी असाड़ा पुलिस थाना बालोतरा व नरपतसिंह पुत्र चंडीदान राव निवासी होथीगांव हाल राम कॉलोनी माखुपुरा को गिरफ्तार कर लिया, वहीं वारदात में तीसरा आरोपी किशनलाल बिश्नोई वारदात में प्रयुक्त वाहन व हथियार के साथ गाड़ी लेकर फरार हो गया। वहीं दूसरी ओर वारदात को लेकर घटना से आक्रोशित युवक सांचौर पुलिस थाने पहुंचे व मामला दर्ज करने मांग करने व आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। जिस पर पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी इस दौरान प्रार्थी की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने प्रकरण भी दर्ज किया । जिसमें रेबारियों का गोलिया निवासी निम्बाराम पुत्र भगवानाराम देवासी ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि वह शनिवार सवेरे करीब १० बजे गोड़ीजी मंदिर के पीछे खड़ा था, इस दौरान आरोपी समन्दरसिंह पुत्र मदनसिंह राव निवासी असाड़ा हाल जैन न्याति नौहरा सांचौर व नरपतसिंह राव दोनो काले रंग की स्क्रॉपियो में सवार होकर आये उसको मारने की नियत से फायरिंग कर दी, इस दौरान दो राऊड फायरिंग होने से उसने पास की दुकान में जाकर शरण ले ली, वहीं तब आस-पास भीड़ हो जाने पर आरोपी मौका स्थल से फरार हो गया। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

गुजरात पुलिस भी दर्ज करवाया मामला

भीलड़ी पुलिस थाना में कार्यरत्त सागर भाई पुत्र विनु भाई आहिर ने रिपोर्ट पेश कर बताया कि दिनांक शुक्रवार सुबह 11.50 बजे मैं व मेरे साथ शैलेस कुमार, कानि. दिलीप भाई , कानि. अर्जुन भाई , कानि. गणपतसिंह सरकारी वाहन बोलेरो जीप लेकर मुकदमा संख्या 442/2019 प्रोही एक्ट में गिरफ्तार सुदा पुलिस रिमाण्ड पर आरोपी राजुराम पुत्र लाधुजी उर्फ जोधाराम जाति विश्नोई निवासी भुतेल पुलिस थाना झाब को लेकर हमारे थाने से रवाना होकर धोरीमन्ना की तरफ निकले। इस दौरान करीब 1.30 बजे कस्बा सांचौर में नेशनल हाईवे पर सुमन हॉटल के पास पीछे से आती सफेद रंग की स्वीफ्ट गाङी बिना नम्बरी ने हमारी गाङी को दबाने की कोशिश करते हुए आगे निकल गयी। इसी प्रकरण में दुसरे आरोपी महिपालसिंह उर्फ मंगलसिंह पुत्र शैलसिंह जाति राजपुत निवासी बीएसएनएल ऑफिस के पास सांचोर की तलाश की, फिर तीसरे आरोपी की तलाश में ओमप्रकाश पुत्र शंकरलाल विश्नोई निवासी उङासर व धौरीमन्ना तलासी करके

वारदात के बाद पुलिस ने गठित की टीमें, नाकाबंदी कर आरोपियों को पकड़ा

गोडिज़ी मंदिर के पीछे हुई फायरिंग की वारदात के बाद पुलिस ने सक्रियता से टीमे बनाई। इस दौरान दोपहर करीब २ बजे पुलिस ने नाकाबंदी कर आरोपियों को गिरफ्तार किया। इस दौरान पुलिस ने आरेापियो शनिवार दिन को आरेापियो के साथ घटना स्थल का मौका तस्कदीक किया।

आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया

थाना क्षेत्र में दो अलग- अलग वारदातों को लेकर प्रकरण दर्ज किया गया है। जिसमें एक प्रकरण गुजरात के भीलड़ी पुलिस के साथ बदमाशों द्वारा पिस्टल की नौक पर गिरफ्तार कर लाये आरोपियों को छुड़ाने का प्रयास करने का प्रकरण दर्ज किया है। वहीं शहर के गोडिज़ी मंदिर के पीछे फायरिंग की वारदात में दो आरोपियों को तुरंत ही गिरफ्तार कर लिया है। एक फरार है, वारदात में शामिल सभी आरेापियो की शीघ्र ही गिरफ्तारी कर ली जायेगी।
- कैलाशदान, थानाधिकारी पुलिस थाना सांचौर

वापस पुलिस थाना भीलङी जा रहे थे। वक्त करीबन ७.३० बजे मेडिपल्स अस्पताल सांचौर पास गाङी लेकर हम सभी पहुंचे तो हमारे पीछे से एक सफेद रंग स्वीफ्ट बिना नम्बरी काले शीशे की गाड़ी ने दो बार टक्कर मारने की कोशिश की। इस दौरान हमारे सरकारी वाहन के साइड आया तो हमने ब्रेक लगाया। उससे गाङी को क्रोस करके स्वीफ्ट गाङी के चालक ने गन निकालर कर बोला गाङी रोक दो वरना जान से मार दुंगा। तब हमने गाङी घुमाकर नजदीकी अस्पताल में चले गये। फिर वो गाङी घुमाकर अस्पताल के गेट पर आया बोला की पुलिस वालो बाहर आ जाओ। फिर हम सब अस्पताल के अंदर चले गये। तथा मदद के लिए सांचौर पुलिस थाने में फोन किया। पुलिस आने से पहले वह आदमी अपनी गाड़ी लेकर चला गया। यह स्वीफ्ट चालक हमारे साथ गिरफ्तार आरोपी को हमारे कब्जे से छुङवाने के लिए हाथ पिस्तोल लेकर आया था। और हमें जान से मारने हेतु गन लेकर आया था। जिसने हमें जान से मारने की कोशिश की। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच शुरू की ।


सांचौर. पुलिस की गिरफ्त में आरोपी। फोटो| भास्कर
खबरें और भी हैं...